ताज़ा खबर
 

पहला आतंकी हिंदू: कमल हासन को गिरिराज सिंह ने बताया ‘सांप’, दूसरे सांसद बोले- काट लो जुबान

गिरिराज सिंह ने ने कहा कि हिंदू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता। हिंदू तो चीटी को गुड देता है। पेड़ों को पानी देता है और तुम जैसे सर्प को दूध देकर पालता है।'

राजनेता कमल हासन। (फोटो: इंडियन एक्सप्रेस)

तमिलनाडु के मंत्री केटी राजेंद्र (केटीआर) बालाजी ने कमल हासन द्वारा नाथूराम गोडसे को आजाद भारत का पहला हिंदू आतंकवादी बताने पर करारा हमला किया है। उन्होंने कहा है कि कमल हासन की जीभ काट देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति (गोडसे) के गलत काम के लिए पूरे समाज पर दाग नहीं लगाए जा सकते। अल्पसंख्यकों के वोट हासिल करने के लिए हासन ने यह बयान दिया है। चुनाव आयोग को उनपर कार्रवाई करनी चाहिए।

दरअसल कमल हसन ने अरावाकुरुची विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि ‘मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं। आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है। वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई।’

हासन के इस बयान के बाद सियासी सरगर्मियां तेज हो गई हैं। अपने बयानों के लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाल बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने भी हासन के बयान पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हिन्दुओं ने तो हासन जैसे ‘सर्प’ को भी महान बना दिया है। वह कांग्रेस के पढ़े-पढ़ाए तोते की तरह बात कर रहे हैं। जिस कांग्रेस ने भगवा आतंकवाद कहा था। जिस कांग्रेस ने हिंदू आतंकवाद कहा। देश में जितने आतंकवादी पकड़े जा रहे हैं वह एक ही कौम के क्यों हैं? इसका जवाब कमल हासन देंगे? उनकी भाषा भारत को बदनाम करने वाली भाषा है। इसलिल वह हिंदूओं को बदनाम करना बंद करें क्योंकि हिंदू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता। हिंदू तो चीटी को गुड देता है। पेड़ों को पानी देता है और तुम जैसे सर्प को दूध देकर पालता है।’

इससे पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तमिलसई सौंदरराजन ने ट्वीट कर हासन पर पलटवार किया है। उनका कहना है कि अल्पसंख्यों के वोट जुटाने के लिए यह बात उठाकर हासन आग से खेल रहे हैं। उन्होंने श्रीलंका के बम ब्लास्ट पर कोई टिप्पणी नहीं की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X