ताज़ा खबर
 

Loksabha Election 2019: बीजेपी नेताओं के संपर्क में आए तृणमूल के दो सांसद: चैनल का दावा

Loksabha Election 2019: टीएमसी के दोनों सांसदों से भाजपा के जिस वरिष्ठ नेता ने बात की, उन्होंने भरोसा दिलाया, 'आपकी इज्जत पार्टी में होगी।'

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस

Loksabha Election 2019: लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि दीदी (ममता) बनर्जी के 40 विधायक उनके संपर्क में हैं। चुनाव नतीजों के बाद वे तृणमूल कांग्रेस छोड़ देंगे। अब एक चैनल ने अपने सूत्रों के हवाले से कहा है कि तृणमूल के 2 सांसद भाजपा के संपर्क में हैं।

टाईम्स नाऊ ने सूत्रों के हवाले से लिखा है, एग्जिट पोल के नतीजों में केंद्र में भाजपा सरकार बनने की संभावना के एक दिन बाद टीएमसी के दो सांसद भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं। सूत्रों ने बताया कि टीएमसी के दो सांसद, जिन्होंने इस बार भी चुनाव लड़ा है, भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से टेलिफोन पर बात की। यदि ऐसा होता है तो यह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए दोहरा झटका होगा। वजह ये कि लगभग सभी एग्जिट पोल में केंद्र में दोबारा नरेंद्र मोदी की सरकार बनने की संभावना तो जताई ही गई है। ममता के गढ़ पश्चिम बंगाल में भी भाजपा का प्रदर्शन काफी अच्छा बताया जा रहा है।

टीएमसी के दोनों सांसदों से भाजपा के जिस वरिष्ठ नेता ने बात की, उन्होंने भरोसा दिलाया, ‘आपकी इज्जत पार्टी में होगी।’ दोनों सांसदों ने तृणमूल के एक खास नेता से नाराजगी जताई है। यदि सूत्रों पर विश्वास करें तो भाजपा ने भी दोनों सांसदों के सामने एक शर्त रखी है। शर्त ये है कि दोनों सांसदों को 23 मई अर्थात रिजल्ट के दिन कोलकाता स्थित भाजपा कार्यालय आना होगा। उन्हें मीडिया को अपना चेहरा दिखाना होगा। यदि वे चाहे तो मीडिया के किसी सवाल का जवाब नहीं दे सकते हैं।

वहीं, दूसरी ओर एग्जिट पोल के पूर्वानुमान से नाराज तृणमूल कांग्रेस अब जिलों से मिली रिपोर्ट के आधार पर चुनाव के बाद के गुणा-भाग में जुट गई है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने सोमवार को एग्जिट पोल के पूर्वानुमानों को नकारते हुए कहा, ‘‘ हमें एग्जिट पोल रिपोर्ट की चिंता करने की जरूरत नहीं है, जो अधिकतर मामलों में ठीक नहीं होते।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हमें आंतरिक रिपोर्ट मिली है। हमें जिलों और हर निर्वाचन क्षेत्र से रिपोर्ट मिली है।’’ पार्टी सूत्रों ने बताया कि तृणमूल नेतृत्व देश में विभिन्न विपक्षी दलों के साथ भी सम्पर्क में है।

तृणमूल के एक अन्य वरिष्ठ नेता ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर कहा, ‘‘ ये अधिकतर एग्जिट पोल निराधार हैं और भाजपा का समर्थन करते हैं। हमें एग्जिट पोल की कोई चिंता नहीं है। चुनाव के बाद के परिदृश्य को लेकर भी सभी विपक्षी दलों के साथ बातचीत जारी है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ निश्चित तौर पर भाजपा की हार होगी। तृणमूल महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।’’ (एजेंसी इनपुट के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Loksabha Election 2019: बीजेपी समर्थकों को उदित राज ने बताया अंधभक्त और अशिक्षित, भाजपा ने कहा- माफी मांगो
2 Loksabha Elections 2019: बीजेपी के दावे पर बोले CM कमलनाथ- शक्ति परीक्षण के लिए तैयार, फिर साबित करेंगे बहुमत
3 Elections Exit Poll Results 2019: सनी देओल से उर्मिला मातोंडकर तक, जानें कैसा है सेलेब्स का हाल