ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: नीच वाली टिप्‍पणी पर पूछा तो बोले मणिशंकर अय्यर- उल्लू हूं, पर इतना बड़ा नहीं

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): मणिशंकर अय्यर ने कि यह बयान मेरे तरफ से दिया गया है। वह एक पूरा लेख है और उसमें से एक लाइन को लेकर कहा जा रहा है कि 'इस पर बात करो'।

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर। (Photo: ANI)

Lok Sabha Election 2019: महीनों की खामोशी के बाद कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर मंगलवार को उस वक्त फिर सुर्खियों में आ गए जब उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपनी ‘नीच’ वाली पुरानी टिप्पणी को सही ठहराया और दावा किया कि मोदी अब तक के सबसे ज्यादा ‘ऊटपटांग’ बयान देने वाले प्रधानमंत्री हैं। इस संबंध में ‘‘राइजिंग कश्मीर’’ और ‘‘द प्रिंट’’ में प्रकाशित अय्यर के लेख पर भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए उन्हें ‘एब्यूजर-इन-चीफ’ करार दिया है। कांग्रेस ने हालांकि कहा है कि लेख में अय्यर ने जो कहा है कि वह उनकी निजी राय है।

नीच वाली टिप्पणी पर न्यूज एजेंसी एएनआई ने जब उनसे पूछा तो मणिशंकर अय्यर ने कहा, “सफाई देने की कोई जरूरत नहीं है। मुझे बताया गया है कि कांग्रेस पार्टी ने एक आधिकारिक बयान दिया है। मैं मीडिया का शिकार हुआ हूं और इससे मुझे काफी नुकसान हुआ है। जब मैं 6 साल का था तब जवाहरलाल नेहरु प्रधानमंत्री बने थे और जब मैं 23 साल का हुआ तो वे गुजर गए। मैंने उस युग में राजनीतिक बयान सीखा। जवाहरलाल नेहरू के समय और वर्तमान सरकार द्वारा बनाए गए परिवेश के बीच कोई तुलना नहीं है।”

मणिशंकर अय्यर ने आगे कहा, “यह बयान मेरे तरफ से दिया गया है। वह एक पूरा लेख है और उसमें से एक लाइन को लेकर कहा जा रहा है कि ‘इस पर बात करो’। मैं आपके खेल में शामिल होने वाला नहीं हूं। ‘मैं उल्लू हूं, लेकिन इतना बड़ा उल्लू नहीं’ हूं।

अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया रैलियों के बयानों का हवाला देते हुए लेख में कहा है, ‘‘देश की जनता की किसी भी सूरत में 23 मई को मोदी को सत्ता से हटा देगी। अब तक के सबसे ज्यादा ऊटपटांग बयान देने वाले प्रधानमंत्री की यह माकूल विदाई होगी। याद है 2017 में मैंने मोदी को क्­या कहा था ? क्­या मैंने सही भविष्­यवाणी नहीं की थी ?”

दरअसल, अय्यर ने 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री मोदी को ”नीच किस्म का आदमी” कहा था। इस बयान पर खासा बवाल मचा था और बाद में कांग्रेस नेता को माफी मांगनी पड़ी थी। कांग्रेस ने उन्हें निलंबित कर दिया था, हालांकि कुछ महीनों के बाद निलंबन निरस्त हो गया था।

भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने ट्वीट कर कहा, ‘‘एब्यूजर-इन-चीफ अय्यर एक बार फिर आ गए हैं और 2017 की अपनी ‘नीच’ वाली टिप्पणी को सही ठहराया है।’’ उन्होंने कहा ‘‘अय्यर ने माफी मांगी और कमजोर हिन्दी का बहाना बना दिया। अब वह कहते हैं कि उन्होंने भविष्यवाणी की थी। कांग्रेस ने पिछले साल उनका निलंबन निरस्त किया था। इससे कांग्रेस की दोहरी जुबान और अहंकार का पता चलता है।’’ कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने अय्यर के लेख के बारे में पूछे जाने पर कहा कि खुद लेख में कहा गया है कि ये लेखक के निजी विचार हैं। (भाषा इनपुट के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कांग्रेस में कलह, नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी ने सीएम के खिलाफ खोला मोर्चा, बोलीं-अमरिंदर ने काटा मेरा टिकट
2 Loksabha Elections 2019: चुनाव नहीं लड़ सकेंगे NDA से बागी ओम प्रकाश राजभर के प्रत्याशी, अब कांग्रेस व महागठबंधन उम्मीदवारों को देंगे समर्थन
3 पहला आतंकी हिंदू: कमल हासन को गिरिराज सिंह ने बताया ‘सांप’, दूसरे सांसद बोले- काट लो जुबान