ताज़ा खबर
 

प्रज्ञा ठाकुर पर BJP की ‘फ्रंट फुट’ पॉलिटिक्स, शिवराज ने बताया ‘भारत की निर्दोष बेटी’, तो अमित शाह ने कहा- असली गुनहगारों को छोड़ दिया गया

Election 2019: विरोधियों के तमाम हमलों के बावजूद बीजेपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर बचाव की मुद्रा में नहीं बल्कि अटैकिंग नज़र आ रही है। पार्टी के नेता साध्वी को 'पीड़ित' बता रहे हैं और कांग्रेस पर इसका आरोप लगा रहे हैं।

Pragya Thakur, BJP Candidate, Bhopalप्रज्ञा ठाकुर को लेकर बीजेपी अपने विरोधियों पर आक्रमक है। प्रज्ञा को हर मंच से पीड़ित बताया जा रहा है। ( फोटो सोर्स: PTI)

2008 मालेगांव बम धमाके की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को लेकर भारतीय जनता पार्टी आक्रामक मुद्रा में है। भोपाल से प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवारी (Lok Sabha Election 2019)  को लेकर बीजेपी किसी भी सूरत में डिफेंसिव नहीं होना चाहती। लिहाजा, पार्टी के सारे नेता एक सुर में साध्वी के मुद्दे पर हमलावर रुख अपनाए हुए हैं। बीजेपी साध्वी प्रज्ञा को पीड़ित के तौर पर प्रॉजेक्ट कर रही है। उसका आरोप है कि यूपीए के शासनकाल में साध्वी को जबरन आतंकी घटना में फंसाया गया, जबकि असली गुनहगारों को छोड़ दिया गया। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के नेता शिवराज सिंह चौहान ने एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में कहा कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ‘राष्ट्रभक्त’ और ‘देश की निर्दोष बेटी’ हैं। वहीं, पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी एक प्रेस-कॉन्फ्रेंस में भोपाल से ठाकुर को उम्मीदवार बनाए जाने के निर्णय को सही करार दिया।

एनडीटीवी के साथ बातचीत में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर (49) को मालेगांव बम धमाके ( सितंबर 2008 में हुए इस धमाके में 6 लोग मारे गए थे, जबकि 100 से अधिक घायल हुए थे।) में साजिश के तहत फंसाया गया। उन्होंने कहा, “उन्हें आरोपी बनाने के लिए कानून का ग़लत इस्तेमाल किया गया। उनके साथ अमानवीय व्यवहार किया गया।” चौहान ने कहा कि कांग्रेस द्वारा ‘हिंदू आतंक’ का झूठा शोर किया गया और इसेक मास्टरमाइंड दिग्विजय सिंह थे। गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह भोपाल से ही कांग्रेस के प्रत्याशी हैं और उनकी आमने-सामने की लड़ाई साध्वी प्रज्ञा से ही है। यह सीट 1989 से ही बीजेपी के खाते में है। साध्वी प्रज्ञा जब से उम्मीदवार बनी हैं, तब से वह विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में हैं। विवादित बयानो ंके चलते ही चुनाव आयोग उन्हें अब तक दो नोटिस भेज चुका है।

न्यूज चैनल के साथ बातचीत में शिवराज सिंह चौहान ने साध्वी प्रज्ञा की तुलना महाभारत की दौपदी से की। उन्होंने कहा, “यह वही देश है जहां द्रौपदी के साथ हुए दुर्व्यवहार के कारण महाभारत हुआ। जो कुछ भी साध्वी प्रज्ञा के साथ हुआ उसे लोग स्वीकार नहीं करेंगे।”

बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी साफ कर दिया है कि साध्वी प्रज्ञा के मामले में वह विरोधियों के हमलों का जवाब आक्रामक होकर ही देंगे। पश्चिम बंगाल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह ने साफ किया कि भोपाल से साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को उम्मीदवार बनाना बीजेपी का बिल्कुल सही फैसला है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक शाह ने भी प्रज्ञा को ‘पीड़ित’ बताया और आरोप लगाए कि यूपीए के शासनकाल में असली गुनहगारों को छोड़ दिया गया। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, “यह (प्रज्ञा की उम्मीदवारी) बिल्कुल ही सही निर्णय है। उनके खिलाफ लगाए के तमाम आरोप बेबुनियाद हैं। उनके या फिर स्वामी असीमानंद के खिलाफ कोई भी आरोप साबित नहीं हुआ है।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Election 2019: राहुल गांधी ने किसानों से किया चुनावी वादा, कहा- हमारी सरकार बनी तो 2 बजट करेंगे पेश
2 Lok Sabha Election 2019: साध्‍वी प्रज्ञा ने दिया चुनाव आयोग को जवाब- नहीं किया किसी का अपमान, पार्टी ने कहा- भड़काऊ बातें मत करें
3 Election 2019: गुजरात में कांग्रेस का प्रचार करने आई थीं अमीषा पटेल, भाजपा की तारीफ करके चली गईं
ये पढ़ा क्या?
X