ताज़ा खबर
 

नेताओं की आवाजाहीः बीजेपी ने केरल-बंगाल-गुजरात-ओडिशा में लगाई बड़ी सेंध, कांग्रेस से भी जुड़े बड़े नाम

Lok Sabha Election 2019 से पहले कई दिग्गजों ने पाला बदल लिया है। बीजेपी और कांग्रेस दोनों अपने किले को मजबूत करने के लिए विरोधी नेताओं को पार्टी में शामिल कर रही हैं।

Author Updated: March 15, 2019 7:54 PM
टीएमसी सांसद अर्जुन सिंह को सदस्यता दिलाने के बाद बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय (एक्सप्रेस फोटोः अनिल शर्मा)

Lok Sabha Election 2019 से ऐन पहले नेताओं के पार्टी बदलने का सिलसिला तेज हो गया है। मिशन मोदी रिटर्न्स में जुटे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कई बड़े नेताओं को अपने पाले में कर चुके हैं। केरल से लेकर पश्चिम बंगाल तक बीजेपी खुद को मजबूत करने में जुटी है। इसी तरह कुछ बड़े नाम कांग्रेस के पाले में भी गए हैं।

पश्चिम बंगाल- बीजेपी में नेताओं के आने का सिलसिला जारीः पश्चिम बंगाल में बीजेपी चुनाव से पहले दूसरे दलों के नेताओं को अपनी पार्टी में लाने के लिए सारे ऑप्शन खोल दिए हैं। इस बीच गुरुवार को टीएमसी के विधायक अर्जुन सिंह ने दिल्ली में बीजेपी ज्वॉइन कर ली। अर्जुन सिंह बैरकपुर संसदीय क्षेत्र में आने वाली विधानसभा सीट भाटपाड़ा से विधायक हैं और अपने क्षेत्र में हिंदी भाषी वोटर्स पर उनकी अच्छी पकड़ है।

दिलचस्प बात है कि दो दिन पहले ममता बनर्जी जब कालीघाट में अपने घर पर टीएमसी के लोकसभा चुनाव उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर रही थी तो अर्जुन सिंह भी वहां मौजूद थे और दो दिन बाद ही उन्होंने दिल्ली में मुकुल रॉय और बंगाल बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय की मौजूदगी में बीजेपी ज्वॉइन कर ली। हो सकता है कि पार्टी उन्हें बैरकपुर से टिकट भी दे दे। अर्जुन सिंह का कहना है- एयर स्ट्राइक पर ममता बनर्जी का सवाल उठाना उन्हें अच्छा नहीं लगा। मैंने बैरकपुर से लड़ने की इच्छा जाहिर की है। यहां के वर्तमान सांसद दिनेश त्रिवेदी से लोगों में भारी नाराजगी है। वहीं कुछ महीनों पहले टीएमसी से निकाले गए बोलपुर सांसद अनुपम हाजरा ने भी बीजेपी का दामन थाम लिया। इससे पहले तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौमित्र खान भी भाजपा में शामिल हुए थे ।

Arjun Singh TMC छोड़ बीजेपी में गए अर्जुन सिंह (फोटो- पार्थ पॉल, कोलकाता)

केरल- उधर राहुल की रैली, इधर वडक्कन बीजेपी में: केरल के त्रिचुर में राहुल गांधी की रैली चल रही थी तभी केरल से आने वाले पार्टी के बड़े नेता और कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता टॉम वडक्कन ने बीजेपी का दामन थाम लिया। त्रिचुर से ही आने वाले वडक्कन केरल में पार्टी के बड़े चेहरों में शुमार थे, बीजेपी को उनके आने से लोकसभा चुनाव में फायदा मिल सकता है। इसके बाद शुक्रवार (15 मार्च) को सामने आई रिपोर्ट के मुताबिक केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम में लोकसभा सांसद शशि थरूर की मौसी सोभना शशिकुमार और उनके पति शशिकुमार बीजेपी में शामिल हो गए।

Tom Vadakkan कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए टॉम वडक्कन के साथ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फोटो- अनिल शर्मा, इंडियन एक्सप्रेस)

महाराष्ट्र- नेता प्रतिपक्ष के बेटे ने ही मिलाया बीजेपी से हाथः महाराष्ट्र में कांग्रेस के कद्दावर नेता और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राधाकृष्ण विखे पाटिल के बेटे सुजय ने हाल ही में बीजेपी का दामन थाम लिया था। वहीं उनके इस चौंकाने वाले कदम के बाद अब कयास लगाए जा रहे हैं कि उनके पिता भी लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। अहमदनगर से विधायक राधाकृष्ण विखे पाटिल कांग्रेस के पुराने नेता हैं यदि वे पाला बदलते हैं तो यह कांग्रेस के लिए बड़ा झटका साबित हो सकता है।

 

गुजरात- कांग्रेस के कुनबे में पहुंचे हार्दिकः पाटीदार आरक्षण आंदोलन के बाद बड़ी पहचान बनाने वाले हार्दिक पटेल ने पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का समर्थन किया था। इसी हफ्ते उन्होंने आधिकारिक रुप से कांग्रेस ज्वॉइन कर ली। माना जा रहा है कि वे अमरेली से लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं। कांग्रेस को पहले से ही हार्दिक का समर्थन प्राप्त है ऐसे में उनके ज्वॉइन करने से कितना फर्क पड़ेगा यह कहना मुश्किल है। हालांकि पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने राज्य में क्लीन स्वीप करने वाली बीजेपी के लिए इस बार राह उतनी आसान नहीं लग रही। दूसरी तरफ मोदी-शाह के गढ़ में बीजेपी भी विपक्ष के नेताओं को जमकर अपने पाले में खींच रही है। पिछले एक हफ्ते में तीन विधायक बीजेपी का दामन थाम चुके हैं। इनमें जामनगर (ग्रामीण) के वल्लभ धारविया और ध्रांगध्रा-हलवद के पुरुषोत्तम साबरिया भी शामिल हैं।

Hardik Patel कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ हार्दिक पटेल (फोटोः @HardikPatel_)

ओडिशा- बीजद सांसद माझी ने पार्टी से इस्तीफा दिया भुवनेश्वरः ओडिशा में नवीन पटनायक सरकार में मंत्री रहे वरिष्ठ बीजेडी नेता दामोदर राउत ने गुरुवार (14 मार्च) को बीजेपी का दामन थाम लिया। उन्होंने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के नेतृत्व में सदस्यता ग्रहण की इस दौरान हाल ही में बीजेपी ज्वॉइन करने वाले पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा भी मौजूद थे। प्रधान ने कहा, ‘उनके आने से पार्टी को ओडिशा में मजबूती मिलेगी।’

Damodar Raut धर्मेंद्र प्रधान और बैजयंत पांडा की मौजूदगी में बीजेपी ज्वॉइन करते दामोदर राउत (फोटोः एएनआई)

ओडिशा में चुनावों से पहले सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद) को झटका देते हुए उसके लोकसभा सदस्य बालभद्र माझी ने भी बृहस्पतिवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। माझी ने दावा किया कि उन्हें ‘‘नजरअंदाज किया गया और धोखा दिया गया’’। नबरंगपुर (सु) लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले माझी ने यहां कहा, ‘‘मैंने बीजद की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है क्योंकि मुझे नजरअंदाज किया गया और धोखा दिया गया। मुझे लगता है कि पार्टी को अब मेरी जरूरत नहीं है।’’ माझी ने कहा कि वह मुख्यमंत्री और बीजद अध्यक्ष नवीन पटनायक से नहीं मिल पाए इसलिए उन्होंने पार्टी प्रमुख के राजनीतिक सचिव को त्यागपत्र सौंपा। किसी अन्य राजनीतिक दल में शामिल होने की संभावना पर माझी ने कहा कि उन्होंने अभी इस बारे में कुछ सोचा नहीं है और इस संबंध में कोई फैसला क्षेत्र के लोगों से बात करने के बाद किया जाएगा। हो सकता है कि माझी बीजेपी में जा सकते हैं। कुछ दिन पहले ही जयंत पांडा बीजेपी में शामिल हुए हैं जिन्हें बीजेपी ने उपाध्यक्ष बना दिया है।

उत्तराखंड- पूर्व सीएम का बीजेपी छोड़ कांग्रेस में! सूत्रों के हवाले से वरिष्ठ बीजेपी नेता और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी में भी कांग्रेस में शामिल होने की तैयारी में हैं। बताया जा रहा है कि 16 मार्च को राहुल गांधी की देहरादून रैली के दौरान इसका ऐलान हो सकता है। मनीष के पौड़ी-गढ़वाल से लोकसभा चुनाव लड़ने की संभावना जताई जा रही है।

उत्तर प्रदेश- कांग्रेस के पाले में सपा-बीजेपी के नेताः बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले और सपा के पूर्व सांसद राकेश सचान ने भी हाल ही में राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया की मौजूदगी में कांग्रेस का दामन थाम लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अखिलेश बोलेः BSNL, स्टेच्यू ऑफ यूनिटी और मनरेगा के मजदूरों को नहीं मिला वेतन, PM चुनाव में खर्च कर रहे जनता का पैसा
2 केरल में राहुल कर रहे थे रैली और वहां के बड़े कांग्रेसी नेता टॉम ने दिल्ली में थाम लिया बीजेपी का दामन
3 मर्डर केस में बर्खास्त इनामी पुलिस वाला चला रहा बाइक शो-रूम पर विभाग खोज नहीं पा रहा
जस्‍ट नाउ
X