ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Elections 2019: दिल्ली में कितनी सीटें जीतेंगे? केजरीवाल का जवाब- आखिरी वक्त में कांग्रेस को शिफ्ट हो गया पूरा मुस्लिम वोट

Lok Sabha Elections 2019: दिल्ली में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। केजरीवाल अपनी पार्टी की संभावनाओं को लेकर आशान्वित हैं। उन्होंने कहा, 'दिल्ली में काम बोलता है। लोग हमें हमारे काम के आधार पर वोट देंगे।'

Author May 18, 2019 7:52 AM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (पीटीआई फोटो)

Lok Sabha Elections 2019: दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि राजधानी में हुए हालिया चुनाव से ऐन पहले मुस्लिमों का वोट कांग्रेस को ‘शिफ्ट’ हो गया। बता दें कि दिल्ली की 7 सीटों पर 12 मई को मतदान हुआ था। राजधानी में कितनी सीटें मिलेंगी, इस सवाल के जवाब में अरविंद केजरीवाल ने द इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ‘देखते हैं क्या होता है? दरअसल, चुनाव के 48 घंटे पहले तक सातों सीट लग रहा था कि आम आदमी पार्टी को आएगी। लास्ट मोमेंट पर पूरा मुस्लिम वोट कांग्रेस को शिफ्ट हो गया। मतदान के ठीक पहले की रात ऐसा हुआ। हम जानने की कोशिश कर रहे हैं कि हुआ क्या है? पूरा का पूरा मुस्लिम वोट जो है, वो कांग्रेस को शिफ्ट हो गया है। वे 12 से 13 पर्सेंट हैं।’ बता दें कि केजरीवाल पंजाब के राजपुरा में ठहरे हुए थे। आम आदमी पार्टी राज्य की सभी 13 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। यहां 19 मई को मतदान होना है।

दिल्ली में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। केजरीवाल अपनी पार्टी की संभावनाओं को लेकर आशान्वित हैं। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में काम बोलता है। लोग हमें हमारे काम के आधार पर वोट देंगे।’ क्या पार्टी पुराने चेहरों को ही दोबारा मौका देगी, यह पूछने पर केजरीवाल ने कहा, ‘देखते हैं। हम हर किसी की परफॉर्मेंस का आकलन करेंगे।’ लोकसभा चुनाव के नतीजों को लेकर उनका क्या आकलन है, इसके जवाब में केजरीवाल ने कहा, ‘अगर वे ईवीएम के साथ छेड़छाड़ नहीं करते तो मोदी जी को वापस नहीं आना चाहिए लेकिन मुझे नहीं पता कि वे ऐसा करेंगे कि नहीं।’ आप प्रमुख ने कहा, ‘अगर केंद्र में बिना शाह और मोदी वाली सरकार आती है और आम आदमी पार्टी को पर्याप्त सीटें मिलती हैं तो हम दिल्ली को राज्य के दर्जा दिए जाने की शर्त पर समर्थन देंगे।’

20017 विधानसभा चुनाव में पंजाब में पार्टी के खराब प्रदर्शन पर केजरीवाल ने कहा, ‘इसकी कई वजहें थीं। एक कारण यह बताया जा रहा था कि मैं किसी के घर रुक गया।’ केजरीवाल का इशारा उनके मोगा में खालिस्तानी लिंक वाले शख्स के यहां ठहरने को लेकर था। केजरीवाल के मुताबिक, विपक्ष ने इसे मुद्दा बना दिया। केजरीवाल ने कहा, ‘इन लोगों ने बोला कि केजरीवाल आतंकियों से मिला हुआ है। दो दिन पहले जब मैं बरनाला में था तो एक पार्क में मॉर्निंग वॉक के लिए गया। वहां मैंने हिंदू समुदाय के लोगों से बातचीत की। उन्होंने मुझसे यह सवाल पूछा। मैंने उनसे पूछा कि मैं तुम सबको शक्ल से आतंकवादी लगता हूं? अगर मैं आतंकवादी होता तो बच्चों के लिए स्कूल नहीं खुलवाता। मैं उन्हें बंदूकों और बमों की ट्रेनिंग देता।’ केजरीवाल ने चुनाव आयोग को भी निशाने पर लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App