ताज़ा खबर
 

पीली साड़ी वाली महिला बोलीं- ‘मैं तो पारंपरिक ड्रेस पहनकर गई थी, स्टाइलिश लोगों ने समझ लिया’, BIGG BOSS में जाने पर कही ये बात

हाल ही में एक पीली साड़ी वाली महिला फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थी। महिला एक नाम रीना द्विवेदी है।

रीना द्विवेदी, फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

2019 लोकसभा चुनाव के बीच जहां नेताओं के बयान काफी सुर्खियां बटोर रहे थे तो ऐसे में पीली साड़ी वाली एक महिला की फोटो अचानक सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी। महिला के हाथ में ईवीएम मशीन थी और महिला के बारे में अलग अलग बातें सामने आ रही थीं। हालांकि अब उस महिला पोलिंग ऑफिसर की पहचान सामने आई है। बता दें कि पीली साड़ी वाली महिला का नाम रीना द्विवेदी है। वहीं जो फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है वो 6 मई की है। जिस वक्त रीना लखनऊ में चुनाव के लिए जा रही थीं।

कहां की है फोटो: एबीपी न्यूज से बात करते हुए रीना ने बताया कि वह नगराम क्षेत्र, 173, मोहनलाल गंज में चुनाव कराने के लिए तैनात की गई थीं। उस वक्त जब वो ईवीएम लेकर बूथ की ओर जा रही थीं तो स्थानीय पत्रकार ने उनकी तस्वीर खींची थी। जो अचानक से सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। गौरतलब है कि रीना लखनऊ के पीडब्‍लूडी विभाग में काम करती हैं।

National Hindi News, 13 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर बड़ी खबर सिर्फ एक क्लिक पर

‘बिग बॉस’ में जाने पर कही ये बात: बिग बॉस में जाने के सवाल पर रीना कहती हैं कि अभी तक तो ऐसा कोई इरादा नहीं है। बाकी आगे क्या होता है ये तो कोई नहीं जानता है।

पारंपरिक वेषभूषा है पसंद: रीना ने बातचीत में बताया कि इससे पहले 2014 में भी उनके फोटोज वायरल हो चुके हैं। हालांकि तब इतनी बड़ी संख्या में फोटोज शेयर नहीं किए गए थे। इसके साथ ही साड़ी को लेकर वो कहती हैं कि उन्हें पारंपरिक वेषभूषा यानी साड़ी पहनना काफी पसंद है। ऐसे में उन्हें अच्छा लगा है कि लोगों को उनको ड्रेसिंग स्टाइल पसंद आया। वहीं सोशल मीडिया पर वायरल होने पर उन्होंने कहा- मैं तो पारंपरिक ड्रेस पहनकर गई थी, स्टाइलिश लोगों ने समझ लिया।

 

सोशल मीडिया के फेक दावे: दरअसल सोशल मीडिया पर रीना के फोटो के सामने आने पर कई तरह के दावे सामने आने लगे थे कोई इन्हें मिसेज जयपुर नालिनी सिंह बता रहा था तो कोई कुछ और। हालांकि सोशल मीडिया के सभी दावे फर्जी साबित हुए। वहीं कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर लिखा की रीना की वजह से ही उस पोलिंग बूथ पर 98 प्रतिशत मतदान हुआ। हालांकि यह भी फेक न्यूज थी। हालांकि रीना मानती हैं कि वोटिंग अच्छी खासी संख्या में हई है। इस पर वो कहती हैं कि वहां माहौल अच्छा बन गया था। स्थानीय लोग काफी जागरुक थे, इसलिए अधिक वोटिंग हुई।

Next Stories
1 Loksabha Elections 2019: RSS पर तमिलनाडु कांग्रेस चीफ का वार- इस्लामिक स्टेट जैसा है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ
2 Lok Sabha Election 2019: टीआरएस को उम्‍मीद तीसरे मोर्चे में आ सकते हैं एनडीए के कई साथी
3 कमल हासन के ‘हिंदू आतंकवादी’ बयान पर बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव का पलटवार, कहा- दिमागी संतुलन खो बैठे हैं वो
ये खबर पढ़ी क्या?
X