ताज़ा खबर
 

लोकसभा चुनाव 2019: दो पूर्व डिप्टी चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ समेत सेना के 7 रिटायर्ड अफसर बीजेपी में शामिल

Lok Sabha Elections 2019: भाजपा की सदस्यता लेने वालों में सूचना सेवा और आईटी के डायरेक्टर जनरल रह चुके रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल सुनीत कुमार भी शामिल हैं। लेफ्टिनेंट जनरल नितिन कोहली भी शनिवार को आधिकारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गए।

defence ministerदिल्ली भाजपा दफ्तर में पूर्व अधिकारियों को भाजपा में शामिल करातीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण। (एएनआई फोटो)

Lok Sabha Elections 2019: पांच रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल सहित सशस्त्र बल के सात पूर्व अधिकारी शनिवार (27 अप्रैल, 2019) को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो गए। सभी ने दिल्ली स्थित भाजपा कार्यालय में पार्टी की प्राथमिक सदस्यता ली। जिन पूर्व अधिकारियों ने भाजपा की सदस्यता ली है उनमें दो पूर्व डिप्टी चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ, लेफ्टिनेंट जनरल जीबीएस यादव और लेफ्टिनेंट जनरल एसके पटयाल जैसे अधिकारी शामिल हैं। इसके अलावा लेफ्टिनेंट जनरल आरएन सिंह ने भी भाजपा की सदस्या ग्रहण कर ली। सिंह मिलिट्री इंटेलिजेंस में डायरेक्टर जनरल के पद पर अपनी सेवाएं भी दे चुके हैं।

भाजपा की सदस्यता लेने वालों में सूचना सेवा और आईटी के डायरेक्टर जनरल रह चुके रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल सुनीत कुमार भी शामिल हैं। लेफ्टिनेंट जनरल नितिन कोहली भी शनिवार को आधिकारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गए। कोहली आर्मी हेडक्वार्टर में सिंगल ऑफिसर इन चीफ के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। कर्नल आरके त्रिपाठी भी रक्षा मंत्री की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो गए। उन्होंने जज एडवोकेट जनरल के रूप में काम किया था। शनिवार को एयरफोर्स मेडिकल सर्विस के पूर्व डॉक्टर विंग कमांडर नवनीत मांगो ने भाजपा की सदस्या ग्रहण कर ली।

सभी पूर्व अधिकारियों को भाजपा में शामिल कराते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘पार्टी में सशस्त्र बलों के बहुत ही सुशोभित वरिष्ठ अधिकारियों को शामिल करना वास्तव में मेरी खुशी है। ऐसे वरिष्ठ पूर्व सैनिकों की उपस्थिति से भाजपा को लाभ होता है। वे राष्ट्र सुरक्षा भवन की नीतियों पर मार्गदर्शन कर सकते हैं।’

इस दौरान लेफ्टिनेंट जनरल यादव ने कहा कि सशस्त्र बलों के अधिकारी आमतौर पर किसी भी राजनीतिक दल से जुड़े नहीं हैं, लेकिन उनका मानना​ था कि प्रत्येक व्यक्ति को राजनीतिक विचार रखने का अधिकार है और उसे उस अधिकार का उपयोग करना चाहिए। यादव ने आगे कहा कि हमारा देश एक महत्वपूर्ण दौर से गुजर रहा है। मेरा मानना ​है कि हमारा देश विकास की ओर अग्रसर है। हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा सक्षम हाथों में है… हम सेवानिवृत्त हैं मगर थके हुए नहीं हैं। सेवानिवृत्त अधिकारी देश के लिए अपने अनुभव का उपयोग करेंगे और राजनीतिक प्रक्रिया में भाग लेंगे।

Next Stories
1 स्मृति बोलीं- कच्चा है प्रियंका का चुनावी गणित, यूपी में 20 सीटों पर चुनाव लड़ने वाले कर रहे सरकार बनाने के दावे
2 PM का हेलिकॉप्टर चेक करने पर निलंबित हुआ था यह मुस्लिम IAS, कहा- नियम के हिसाब से कर रहा था ड्यूटी, फिर भी दी गई सजा
3 ‘कांग्रेस जिन्ना की पार्टी’ पर सफाई में बोले शत्रुघ्न सिन्हा- नीयत तो ठीक थी, जुबान फिसल गई
दिशा रवि केस
X