ताज़ा खबर
 

Election Results 2019: ढह गया सपा का किला, हार गईं डिंपल यादव, 21 साल बाद बीजेपी के नाम हुआ कन्नौज

Chunav Result 2019, Lok Sabha Election Results 2019: 2014 के लोकसभा चुनाव में भी डिंपल यादव की टक्कर बीजेपी के सुब्रत पाठक से हुई थी। तब डिंपल यादव ने 19,907 वोटों से सुब्रत पाठक को हराया था।

spडिंपल यादव और सुब्रत पाठक (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

Lok Sabha Election Results 2019 में कई बड़े नेताओं को अपने ही गढ़ में हार का सामना करना पड़ा है। इन्हीं में एक नाम कन्नौज से सपा प्रत्याशी डिंपल यादव को हार का सामना करना पड़ा है। मोदी तूफान में समाजवादी पार्टी का किला ढह गया। बीजेपी ने 21 सालों बाद कन्नौज में कमल खिलाने में सफलता हासिल की है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव और बीजेपी के सुब्रत पाठक के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली। डिंपल यादव बीजेपी के सुब्रत पाठक से 12,086 वोटों से हार गईं। इस हार के बाद समाजवादी पार्टी में मायूसी छाई है। बीजेपी ने कन्नौज लोकसभा सीट पर जीत दर्ज कर सपा को सबसे गहरा घाव दिया है।

Election Results 2019 LIVE Updates: यहां देखें नतीजे

गठबंधन के बावजूद हारी सीटः सपा-बसपा गठबंधन मिलकर भी डिंपल की सीट नहीं बचा सका। कन्नौज समाजवादी पार्टी के लिए सबसे सुरक्षित सीटों में मानी जाती थी। मुलायम परिवार के लिए इसे ‘लॉन्चिंग सीट’ भी माना जाता रहा है। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव भी पहली बार यहीं से जीतकर संसद पहुंचे थे। इसके बाद स्वयं अखिलेश यादव भी कन्नौज से जीते थे। डिंपल यादव भी पहली बार कन्नौज से ही लोकसभा चुनाव जीती थी। समाजवादी पार्टी का कन्नौज लोकसभा सीट पर पिछले 23 वर्षों कब्जा था।

Loksabha Election 2019 Results live updates: See constituency wise winners list

पहले अखिलेश लड़ने वाले थे यहां सेः सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पहले कन्नौज लोकसभा सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने के संकेत दिए थे। लेकिन सपा-बसपा-आरएलडी गठबंधन होने के बाद अखिलेश यादव ने डिंपल को कन्नौज से चुनावी मैदान में उतारने का फैसला किया। सपा-बसपा गठबंधन होने के बाद समाजवादी पार्टी को पूरा भरोसा था कि डिंपल का जीतना तय है। लेकिन जातिगत आंकड़ों और मोदी लहर में सपा का यह किला ढह गया।

Follow live coverage on election result 2019. Check your constituency live result here.

 

पिछली बार पाठक हारे थेः 2014 के लोकसभा चुनाव में भी डिंपल यादव की टक्कर बीजेपी के सुब्रत पाठक से हुई थी। तब डिंपल यादव ने 19,907 वोटों से सुब्रत पाठक को हराया था। इस नजदीकी हार को बीजेपी ने हार नहीं माना, बल्कि इस हार से बीजेपी ने सबक लिया था और बीजेपी को भरोसा हो गया था कि कन्नौज की सीट जीती जा सकती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Election Results 2019: पहले टिकट काटा था, अब जीत के बाद आडवाणी और जोशी से मिलने पहुंचे मोदी-शाह, ‘मार्गदर्शकों’ के लिए कही ये बात
2 Election 2019 Results:शरद पवार की किरकिरी, चुनाव हारने वाला परिवार का पहला सदस्य बना उनका पोता
3 Election Results 2019: दिल्‍ली में बीजेपी के मनोज तिवारी, मीनाक्षी लेखी जैसे दिग्‍गज नेताओं से भी आगे निकले हंसराज हंस, बताया- क्‍यों मिले 60% वोट