ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: भाजपा में गए कांग्रेस प्रवक्‍ता टॉम वडक्‍कन, डेढ़ महीने पहले कहा था- बीजेपी में शामिल होते ही सारे दाग धुल जाते हैं

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): वडक्कन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व पर परोक्ष रूप से हमला किया। कहा कि अब वह इस्तेमाल करो और फेंकों की नीति अपना रहे हैं। वंशवादी राजनीति कांग्रेस में चरम पर है, जबकि पीएम नरेंद्र मोदी की विकास पहल पर वह पूरा भरोसा करते हैं।

वडक्कन के बीजेपी में शामिल होने के बाद उनसे पार्टी चीफ अमित शाह भी गुरुवार को मिले।

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव से ऐन पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। गुरुवार (14 मार्च, 2019) को पार्टी के वरिष्ठ नेता टॉम वडक्कन ने पार्टी का साथ छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया। राजधानी नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद व अन्य नेताओं ने उस दौरान उनका स्वागत किया, जबकि बाद में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से भी उनकी भेंट हुई। वडक्कन, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अध्यक्ष सोनिया गांधी के करीबी माने जाते हैं। राजनीतिक जानकारों की मानें तो आम चुनाव में बीजेपी उन्हें केरल की किसी सीट से प्रत्याशी बना सकती है।

कांग्रेस छोड़ने के बाद उन्होंने कहा, “मैं बेहद आहत हूं, इसलिये यहां हूं।’’ आगे जोर दिया कि कांग्रेस सशस्त्र बलों की ईमानदारी पर सवाल उठा रही है। पूरे मामले पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया निराशजनक रही है और उससे वह दुखी हैं। बकौल वडक्कन, “मैंने भारी दिल से पार्टी (कांग्रेस) छोड़ी है। अगर कोई पार्टी राष्ट्रीय हितों के खिलाफ काम करती है, तब पार्टी छोड़ने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचता।”

इतना ही नहीं, वडक्कन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व पर परोक्ष रूप से हमला किया। कहा कि अब वह इस्तेमाल करो और फेंकों की नीति अपना रहे हैं। वंशवादी राजनीति कांग्रेस में चरम पर है, जबकि पीएम नरेंद्र मोदी की विकास पहल पर वह पूरा भरोसा करते हैं।

बकौल वडक्कन, “मैं पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता था। कांग्रेस ने जो स्क्रिप्ट दी वह पढ़ी, पर अब आत्मा की आवाज सुनूंगा। अब मैं मुक्त हूं। मेरे विचार, सिर्फ मेरे हैं। उन्हें किसी ने संपादित या बदला नहीं हैं और अब मैं सच बोलूंगा।” आगे पूछे जाने पर कि क्या गारंटी है कि अब आप बीजेपी की स्क्रिप्ट नहीं पढ़ेंगे, आपकी साख इसमें कहां होगी? जवाब आया- बीजेपी ने मुझे कोई पद नहीं ऑफर किया है। हमारी राष्ट्रीय मुद्दों को लेकर चर्चा हुई है। मुझ पर जिम्मेदारी होगी, तब मुझसे यह पूछा जाना चाहिए। फिलहाल मैं आजाद हूं और सिर्फ अपने मन की बात करूंगा। देखें, अचानक पाला बदलने पर वडक्कन ने एक अंग्रेजी चैनल से क्या कहा-

रोचक बात है कि तकरीबन डेढ़ महीने पहले ही उनके टि्वटर हैंडल से कहा गया था कि बीजेपी में शामिल होने पर इंसान के सभी पाप धुल जाते हैं। दरअसल, सीबीआई बनाम सीएम ममता के मुद्दे पर उस दौरान एक यूजर ने लिखा था- टीएमसी के मुकुल रॉय, जो बीजेपी के हो गए हैं। वह सारधा चिटफंड घोटाले के आरोपी हैं। आश्चर्य होता है कि उनसे कोई अब सवाल नहीं किया जाता है। उसी ट्वीट के थ्रेड में वडक्कन ने तंज कसते हुए लिखा था, “बीजेपी में आने पर किसी के भी सारे पाप धुल जाते हैं।” यह रहा उनका ट्वीटः

Loksabha Elections 2019, Elections 2019, Tom Vadakkan, Congress, BJP, Crime, Clean, Amit Shah, Ravishankar Prasad, Rahul Gandhi, Sonia Gandhi, Kerala News, State News, India News, Elections News, Hindi News भाजपा में गए कांग्रेस प्रवक्‍ता टॉम वडक्‍कन, डेढ़ महीने पहले कहा था- बीजेपी में शामिल होते ही सारे दाग धुल जाते हैं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App