ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: सभा में कम भीड़ से योगी नाराज, मंत्री को चेताया- कम वोट मिले तो मंत्रालय भी नहीं बचेगा

Lok Sabha Election: योगी सभा स्थल पर जुटी कम भीड़ को देखे काफी नाराज हो गए। नाराजगी का ही आलम रहा कि उन्होंने सबसे पहले जिला बीजेपी संगठन के पेच कसे और प्रदेश सरकार के एक मंत्री को दो टूक कह दिया कि यदि वीके सिंह को कम वोट मिले तो उनका भी मंत्रालय नहीं बचेगा।

योगी आदित्यनाथ की धमकी- वोट कम पड़े तो मंत्रालय छीन लूंगा! (फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

Election 2019: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोकसभा चुनाव में प्रत्याशियों की जीत के लिए सबसे पहले भीतरघातियों को निशाना बनाया है। योगी ने साफ-साफ संदेश दिया है कि जिस क्षेत्र से कम वोटिंग होगी वहां के नेतृत्व और पार्टी प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। यह संदेश उन्होंने गाजियाबाद में पार्टी के प्रत्याशी एवं विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह के खिलाफ हो रहे भीतरघात की अटकलों के बीच दिया।

दरअसल, योगी आदित्यनाथ गाजियाबाद स्थित घंटाघर रामलीला मैदान में वीके सिंह के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस दौरान योगी सभा स्थल पर जुटी कम भीड़ को देखे काफी नाराज हो गए। नाराजगी का ही आलम रहा कि उन्होंने सबसे पहले जिला बीजेपी संगठन के पेच कसे और प्रदेश सरकार के एक मंत्री को दो टूक कह दिया कि यदि वीके सिंह को कम वोट मिले तो उनका भी मंत्रालय नहीं बचेगा। गौरतलब है कि मंत्री पर आरोप है कि वह भीतरखाने सपा-बसपा के उम्मीदवार को सपोर्ट कर रहे हैं।योगी आदित्यनाथ का पारा उस वक्त चढ़ गया था, जब उन्होंने सभा स्थल पर खाली कुर्सियां देखीं। सभा स्थल पर पहुंचने के 20 मिनट बाद उन्होंने अपना भाषण शुरू किया, लेकिन फिर भी अधिकांश खुर्सियां खाली पड़ी रहीं।

तमाम मीडिया रिपोर्ट में यह बात सामने आई कि विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह का टिकट कटवाने के लिए जिले के कई वरिष्ठ नेता दिल्ली हाईकमान के पास गए थे। लेकिन, उनकी तमाम कोशिशों के बावजूद वीके सिंह को टिकट मिल गया। योगी ने गाजियाबाद में साफ संदेश दे दिया है कि वीके सिंह को जिस क्षेत्र से कम वोट मिलेंगे, वहां के संगठन प्रभारी और संबंधित मंत्री या विधायक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App