ताज़ा खबर
 

गुजरात: वोटिंग में खराब निकलीं 800 ईवीएम और 1533 VVPAT सिस्टम, बदलना पड़ा

गुजरात चुनावों में कुल 65,240 वीवीपैट मशीनों, 80,344 बैलेट यूनिट और 62,256 कंट्रोल यूनिट्स का इस्तेमाल किया गया। इनमें से 1533 वीवीपैट, 814 बैलेट यूनिट और 882 कंट्रोल यूनिट में खराबी की शिकायत मिली, जिन्हें बदल दिया गया।

Author Published on: April 24, 2019 12:34 PM
evmभारत में जारी लोक सभा चुनाव के दौरान गुजरात में बड़ी संख्या में ईवीएम में खराबी की खबरें आयी।

बुधवार को लोकसभा के तीसरे चरण के लिए मतदान हुआ। इस दौरान गुजरात की सभी 26 लोकसभा सीटों पर वोट डाले गए। चुनाव आयोग के अनुसार, गुजरात में 63.67 प्रतिशत मतदान हुआ। हालांकि चुनाव के दौरान ईवीएम में गड़बड़ी की भी कई घटनाएं सामने आयी। द इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के अनुसार, गुजरात में चुनाव के दौरान 800 ईवीएम खराब निकली, जिनमें 1533 वीवीपैट मशीनें थी। बता दें कि वीवीपैट, बैलेट यूनिट और कंट्रोल यूनिट को मिलाकर एक ईवीएम बनती है।

चुनाव आयोग के अधिकारियों ने पहचान जाहिर ना करने की शर्त पर द इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि गुजरात चुनावों में कुल 65,240 वीवीपैट मशीनों, 80,344 बैलेट यूनिट और 62,256 कंट्रोल यूनिट्स का इस्तेमाल किया गया। इनमें से 1533 वीवीपैट, 814 बैलेट यूनिट और 882 कंट्रोल यूनिट में खराबी की शिकायत मिली, जिन्हें बदल दिया गया। इस तरह कुल 2.93 प्रतिशत वीवीपैट, 1.19 प्रतिशत बैलेट यूनिट और 1.70 प्रतिशत कंट्रोल यूनिट रिप्लेस की गई। चुनाव अधिकारियों के अनुसार, इतनी बड़ी संख्या में गड़बड़ी होने की वजह चुनाव स्टाफ का ईवीएम को लेकर कन्फ्यूजन और वीवीपैट मशीन के सेंसर में गड़बड़ी रही। वीवीपैट मशीन के सेंसर सूरज की रोशनी में खराब हो जाते हैं।

गौरतलब बात ये है कि मॉक टेस्ट में भी 711 वीवीपैट, 394 बैलेट यूनिट और 571 कंट्रोल यूनिट में खराबी की शिकायत मिली थी। अधिकारियों के अनुसार, गुजरात में लोकसभा चुनावों के दौरान जिन ईवीएम का इस्तेमाल किया गया, वो नई थी और इससे पहले कहीं भी इस्तेमाल नहीं हुई थी। साथ ही ये मशीनें ईवीएम के नए संस्करण की थी। जिस वजह से चुनाव स्टाफ में भी इसे लेकर थोड़ी सी असमंजस की स्थिति रही। बता दें कि गुजरात के अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों में भी ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें मिली हैं। उत्तर प्रदेश में सपा मुखिया अखिलेश यादव और आंध्र प्रदेश में तेदेपा सुप्रीमो चंद्रबाबू नायडू भी ईवीएम को लेकर सवाल खड़े कर चुके हैं और चुनाव आयोग की कार्यप्रणाली से नाराजगी जता चुके हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 फेल हुई प्रकाश अंबेडकर की सारी तैयारी, कार्यक्रम में नहीं जुटी भीड़, नहीं पहुंचे ओवैसी
2 Loksabha election: बीजेपी के सारे उम्‍मीदवारों की कुल संपत्‍ति से भी 50 फीसदी ज्‍यादा गौतम गंभीर की दौलत
3 BJP छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए उदित राज, फिर भी अपनी सीट पर नहीं लड़ पाएंगे चुनाव, यह है वजह