ताज़ा खबर
 

lok sabha election 2019: दुनिया के सबसे ऊंचे मतदान केंद्र पर 143 फीसदी वोटिंग

हिमाचल प्रदेश में दुनिया के सबसे ऊंचे मतदान केन्द्र ताशिगांग गांव में रविवार को 142.85 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया और सभी वोटों को वैध घोषित किया गया।

Author May 20, 2019 1:28 AM
हिमाचल प्रदेश में दुनिया के सबसे ऊंचे मतदान केन्द्र ताशिगांग गांव में मतदान के बाद पोज देते वोटर्स। (Photo Source- PIB/PTI)

यह सुनने में अविश्वसनीय सा लगता है लेकिन सच है। हिमाचल प्रदेश में दुनिया के सबसे ऊंचे मतदान केन्द्र ताशिगांग गांव में रविवार को 142.85 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया और सभी वोटों को वैध घोषित किया गया। देश की इस सबसे बड़ी लोकतांत्रिक कवायद में एक और विशेष बात सामने आई जहां स्पीति घाटी के ताशिगांग में ही सबसे छोटे मतदान केंद्र ‘का’ में मतदान प्रतिशत 81.25 फीसदी से अधिक दर्ज किया गया। ‘का’ में कुल 13 मतदाताओं ने मतदान किया।

कजा के एसडीएम जीवन नेगी ने कहा कि ताशिगांग की मतदाता सूची में महज 49 पंजीकृत मतदाता हैं और कुल 70 मतदाताओं ने गांव के मतदान केंद्र पर वोट डाला। मतदान प्रतिशत में इस अविश्वसनीय बढ़ोतरी की वजह ताशिगांग और आसपास के अन्य मतदान केंद्रों पर तैनात कई निर्वाचन अधिकारियों की 15,256 फुट ऊंचाई पर स्थित दुनिया के सबसे ऊंचे मतदान केंद्र पर वोट डालने की इच्छा रही। ताशिगांग गांव के कुल 49 पंजीकृत मतदाताओं में से कुल 36 ग्रामीणों ने मतदान किया। इनमें 21 पुरुष और 15 महिलाएं हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव अधिकारियों ने संबंधित सहायक निर्वाचन अधिकारियों द्वारा उन्हें जारी चुनाव कर्तव्य प्रमाणपत्र (ईडीसी) दिखाने के बाद ताशिगांग मतदान केंद्र पर वोट डाले।

ताशिगांग हिमाचल प्रदेश में एक प्राचीन बौद्ध मठ के पास स्थित गांव है। यह भारत-तिब्बत सीमा के पास स्पीति घाटी में सबसे ऊंचा गांव है। यहां मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ जब तापमान जमाव बिन्दु से नीचे था। मतदाता कड़कड़ाती ठंड में अपने पारंपरिक परिधानों में मतदान केन्द्र पर आए। ताशिगांग और ‘का’ दोनों मतदान केंद्र मंडी संसदीय क्षेत्र में आते हैं जहां राज्य की चार लोकसभा सीटों में सर्वाधिक 17 उम्मीदवार खड़े हैं। मंडी में सीधा मुकाबला भाजपा के मौजूदा सांसद राम स्वरूप शर्मा और कांग्रेस उम्मीदवार आश्रय शर्मा के बीच है। आश्रय पूर्व केंद्रीय मंत्री सुखराम के पौत्र हैं।

बता दें कि लोकसभा चुनाव के रविवार शाम आए ज्यादातर एक्जिट पोल के मुताबिक नरेन्द्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री के रूप में वापसी करने जा रहे हैं। यहां तक कि कुछ एक्जिट पोल ने भाजपा नीत राजग को बहुमत के लिए जरूरी 272 सीटों से कहीं अधिक 300 प्लस सीट मिलने का अनुमान व्यक्त किया है। हालांकि कई एक्जिट पोल के मुताबिक भाजपा-गठबंधन को उत्तर प्रदेश में खासा नुकसान हो रहा है। 2014 के आम चुनाव में पार्टी को 71 सीटें मिली थीं। एबीपी नीलसन की मानें तो भाजपा-गठबंधन को उत्तर प्रदेश में सिर्फ 22 सीटें मिलने की संभावना है, जबकि न्यूज 18-इपसस और न्यूज24 चाणक्य के अनुसार राजग को 60 से ज्यादा सीटें मिलेंगी। भगवा पार्टी को पश्चिम बंगाल और ओडिशा में इस बार ज्यादा फायदा होता दिख रहा है। न्यूज18 इपसस, इंडिया टुडे-एक्सिस और न्यूज24 चाणक्य के एक्जिट पोल के मुताबिक राजग को क्रमश: 336, 339-368 और 336-364 सीटें मिलने जा रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X