ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: आगरा का यह चायवाला नहीं चाहता मोदी फिर बनें पीएम, यह बताई वजह

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): आगरा के एक चायवाले किशन का कहना है कि इस बार राहुल गांधी को मौका मिला चाहिए, क्योंकि वे युवा हैं। उनमें कुछ अलग कर दिखाने का जज्बा नजर आता है।

Author April 16, 2019 10:02 AM
Lok Sabha Election 2019 के तहत टीम जनसत्ता ने किया आगरा लोकसभा सीट का दौरा। फोटो सोर्स : स्थानीय

Lok Sabha Election 2019: टीम जनसत्ता आगरा के राजा मंडी इलाके में पहुंची तो किशन नाम के एक चायवाले से मुलाकात हुई। उस वक्त वे अपनी दुकान खोलने की तैयारी कर रहे थे। उनसे पीएम मोदी के चायवाला होने और अब चौकीदार का जिक्र करने को लेकर बातचीत की तो उन्होंने वर्तमान सरकार में कई खामियां बताईं। साथ ही, कहा कि इस बार राहुल गांधी को मौका मिला चाहिए, क्योंकि वे युवा हैं और उनमें कुछ अलग कर दिखाने का जज्बा नजर आता है।

पीएम मोदी पर यह राय : किशन कहते हैं कि लोग मोदी सरकार की काफी तारीफ करते हैं, लेकिन पीएम ने अपने कई वादे अब तक पूरे नहीं किए हैं। उन्होंने देश के युवाओं को हर साल 2 करोड़ नौकरियां देने का वादा किया था, जो अब तक अधूरा है। जब भी रोजगार की बात करते हैं तो वे अपनी तमाम योजनाएं गिनाना शुरू कर देते हैं, लेकिन सटीक आंकड़े पेश नहीं करते।

National Hindi News, 16 April 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें पढ़ें एक क्लिक पर

नोटबंदी का नतीजा क्या? : किशन ने टीम जनसत्ता से ही उल्टा सवाल पूछ लिया। उन्होंने कहा कि आखिर नोटबंदी से फायदा क्या हुआ? आरबीआई दावा करती है कि 99.5% पुराने नोट बैंकों में जमा हो गए तो क्या सिर्फ .5% नोटों के लिए इतना बड़ा कदम उठाया गया? या सिर्फ अपनी तानाशाही के लिए लोगों को मरने के लिए छोड़ दिया गया?

कालाधन वापस लाने पर कोई बात ही नहीं : किशन ने कहा कि मैं अपने बैंक खाते में 15 लाख रुपए जमा कराने की बात नहीं कहता, लेकिन पीएम बनने से पहले मोदी ने विदेशों की बैंकों में जमा कालाधन वापस लाने का दावा किया था। उसका क्या हुआ? आज तक एक भी ऐसा मामला सामने नहीं आया कि स्विटजरलैंड स्थित बैंकों से कालाधन लाया गया हो। देश में कई लोग घोटाला करके भाग गए। उनके प्रत्यर्पण की खबरें रोज आती हैं, लेकिन अब तक किसी को ला क्यों नहीं पाए?

इन मुद्दों पर फोकस : किशन कहते हैं कि देश में बेरोजगारी और गरीबी अब भी सबसे जटिल समस्या हैं, जिन्हें दूर करने का दावा करने वाले को ही वोट दिया जाएगा। पिछली बार हमने मोदी को मौका दिया, लेकिन इस बार राहुल गांधी की सरकार बनाना चाहते हैं। शायद युवा जोश देश के काम आ जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App