ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: अमेठी में स्‍मृति ईरानी के लिए तैयार हो रहा घर, यहीं से राहुल गांधी को देंगी चुनावी टक्‍कर

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी यूपी के अमेठी सीट पर राहुल से मुकाबला करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। चुनाव प्रचार के दौरान अमेठी में रहने के वास्ते एक घर को तैयार किया जा रहा है।

lok sabha, lok sabha election, lok sabha election 2019, lok sabha election 2019 schedule, lok sabha election date, lok sabha election 2019 date, लोकसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव 2019, chunav, lok sabha chunav, lok sabha chunav 2019 dates, lok sabha news, election 2019, election 2019 news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindi, Smriti Irani, textile ministry, Amethi, Rahul Gandhiकेंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी दूसरी बार राहुल गांधी को अमेठी से टक्कर देंगी। (फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को टक्कर देने के लिए केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी पूरी तैयारी में जुटी हैं। स्मृति चुनाव के दौरान अमेठी ही डेरा जमाएंगी। इसके लिए अमेठी के गौरीगंज में केंद्रीय मंत्री के ठहरने के लिए एक घर तैयार कराया जा रहा है।

माधोपुर ब्लॉक के जामो ब्लॉक में राजमिस्त्री दो मंजिला कृष्णा मैंसन को फिनिशिंग टच देने में लगे हुए हैं। अपने चुनाव प्रचार अभियान के दौरान स्मृति के यहीं ठहरने की उम्मीद है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार इस घर से करीब 100 मीटर दूरी पर आलोक ढाबा है। ढाबे की मेजों पर भाजपा कार्यकर्ता डेरा जमाए केंद्रीय मंत्री के अमेठी में चुनावी सभाओं की तैयारियों में जुटे हुए हैं।  पूर्व केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री की टीम पिछले पांच साल में उनके द्वारा शुरू की गई 48 परियोजनाओं की सूची बना रही है।

घर के मालिक जितेंद्र ने कहा, ‘मेरे भाई राकेश गुप्ता, माता और मैं स्मृति ईरानी की मेजबानी करने के लिए तैयार हैं। अमेठी एक बार फिर से जीवंत हो जाएगा। हमारा घर तैयार हो रहा है।’

आलोक ढाबे के मालिक ज्ञान प्रताप सिंह का कहना है कि किसी भी पार्टी का कोई भी ऐसा उम्मीदवार नहीं है जो हारने के बाद अमेठी आया हो। हम दीदी के दुबारा चुनाव लड़ने की प्रतिबद्धता को देखते हुए उनकी जीत सुनिश्चित करना चाहेंगे।

सिंह के बेटे आलोक बताते हैं कि किस तरह ईरानी यहां कार्यकर्ताओं के साथ मिलती हैं, ब्लॉक अध्यक्षों, जिला पदाधिकारियों और वोटरों से ‘चिली पनीर और मिस्सी रोटी’ पर चर्चा करती हैं।

साल 2014 में केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को हराया था। केंद्रीय मंत्री ने राहुल गांधी को यहां जोरदार टक्कर देते हुए उनकी जीत के अंतर को तीन लाख मतों से घटाकर एक लाख कर दिया था। भाजपा आलाकमान ने एक बार फिर से ईरानी को मैदान में उतारा है। पार्टी राहुल को उनकी इस पारंपरिक सीट पर किसी भी तरह से वॉकओवर देने के मूड में नहीं है।

यहीं कारण है कि केंद्रीय मंत्री को इस सीट से उतारा गया है। स्मृति ईरानी के एक बार फिर से मैदान में उतरने से यहां का मुकाबला एक बार फिर हाईप्रोफाइल होने के साथ ही रोमांचक हो गया है। इस कारण पूरे देश की नजर यूपी की अमेठी सीट पर रहेंगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 विज्ञापन वाले धुरंधर नहीं दे पा रहे थे कैंपेन को धार, तब नरेंद्र मोदी ने कहा- “मैं भी चौकीदार”
2 चाचा शिवपाल का भतीजे अखिलेश पर हमला: 10-25 करोड़ रुपए में टिकट बेचती है सपा
3 Sapna Choudhary Joins Congress: पिता की मौत के बाद टूटा था इंस्पेक्टर बनने का ‘सपना’, आज करोड़ों दिलों की धड़कन
IPL 2020 LIVE
X