ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी बोले- PM मोदी और उनके गैंग के आगे सरेंडर हुआ चुनाव आयोग, केदारनाथ यात्रा की अनुमति पर उठाए सवाल

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव): प्रधानमंत्री मोदी की केदारनाथ यात्रा, आचार संहिता के कथित उल्लंघन में क्लीनचिट समेत कई मामलों को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनाव आयोग को निशाने पर लिया है।

Author नई दिल्ली | May 20, 2019 11:12 AM
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो- फाइनेंशियल एक्सप्रेस)

Lok Sabha Election 2019 के लिए वोटिंग खत्म होने के बाद अब नतीजों का इंतजार है। लेकिन कई राजनीतिक दल चुनाव आयोग से नाखुश नजर आ रहे हैं। रविवार (19 मई) को कांग्रेस ने चुनाव आयोग पर हमला बोला। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके गैंग के आगे घुटने टेक दिए हैं।’ कांग्रेस ने पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को आचार संहिता के कथित उल्लंघन से जुड़े मामले में क्लीनचिट देने और अंतिम चरण की वोटिंग के दिन उत्तराखंड यात्रा की अनुमति देने पर सवाल उठाए हैं।

राहुल ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘चुनावी बॉन्ड और ईवीएम में छेड़छाड़ से लेकर चुनाव के टाइम टेबल, नमो टीवी, मोदी सेना और अब केदारनाथ में नाटक, चुनाव आयोग ने मोदी और उनके गैंग के सामने घुटने टेक दिए हैं। यह अब सभी भारतीयों के सामने स्पष्ट हो चुका है।’

टीएमसी के प्रवक्ता डेरेक ओब्रायन ने लिखा, ‘उत्तराखंड यात्रा के दौरान उनकी हर गतिविधि को व्यापक स्तर पर प्रचारित किया गया ताकि वोटर्स को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तरीके से प्रभावित किया जा सके। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। चुनाव आयोग लोकतांत्रिक प्रक्रिया के लिए आंख और कान की तरह है और सबसे ऊंची संस्था है। आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर वह अंधी और बहरी हो गई है। मैं इस मामले में तुरंत कार्रवाई करने का निवेदन करता हूं।’

National Hindi News, 20 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की अहम खबरों के लिए क्लिक करें

वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा, ‘मतदान हो चुका है। अब हम कह सकते हैं कि पिछले दो दिनों में की गई प्रधानमंत्री की ‘तीर्थयात्रा’, वोटर्स को प्रभावित करने के लिए धर्म और धार्मिक प्रतीकों का स्वीकार नहीं करने लायक इस्तेमाल है। हमारा आरोप है कि चुनाव आयोग सो रहा है। अब हम कह सकते हैं कि चुनाव आयोग ने अपनी आजादी और अधिकार पूरी तरह से सरेंडर कर दिए हैं। शर्मनाक।’

आंध्र प्रदेश सीएम और टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू और सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने भी इस मामले में आयोग की आलोचना की है। उन्होंने इस संबंध में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को भी पत्र लिखा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X