ताज़ा खबर
 
title-bar

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान खत्म, 12 राज्यों की 95 सीटों पर 61.12 फीसदी वोट

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): लोकसभा के दूसरे चरण का मतदान गुरुवार को संपन्न हो गया। पश्चिम बंगाल में कुल 75.27% वोट डाले गए। इसके अलावा असम में 73.32%, मणिपुर में 74.69% और पुडुचेरी में 74.40% वोट पड़े।

तमिलनाडु के मदुरै में वोटिंग बूथ के बाहर कतार में खड़े मतदाता। (फोटोः पीटीआई)

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा के दूसरे चरण के लिए 11 राज्य और 1 केंद्र शासित प्रदेश की 95 सीटों के लिए मतदान समाप्त हो गया। दूसरे चरण के लिए हो रहा मतदान समाप्त हो गया है। चुनाव आयोग के मुताबिक दूसरे चरण में कुल 61.12% वोट पड़े। सबसे ज्यादा वोटिंग प्रतिशत पश्चिम बंगाल में पड़े, जहां कुल 75.27% वोट डाले गए। इसके अलावा असम में 73.32%, मणिपुर में 74.69% और पुडुचेरी में 74.40% वोट पड़े।

सबसे पहले वोट डालने वालों में पूर्व वित्त व गृह मंत्री पी. चिंदबरम, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे, व अभिनेता रजनीकांत शामिल थे। बंगलौर साउथ सीट पर सुबह से ही मतदान केंद्रों पर लोगों की कतार लगनी शुरू हो गई है।

वहीं. असम के सिलचर में वीवीपीएटी मशीन में खराबी की सूचना है। मतदान कर्मी मशीन में खराबी दूर करने में लगे हुए हैं। पश्चिम बंगाल में रायगंज से सीपीएम के उम्मीदवार मोहम्मद सलीम के वाहन पर इस्लामपुर में हमला किया गया।  सीपीएम ने इस हमले के पीछे तृणमूल कांग्रेस का हाथ बताया है।

वहीं, पश्चिम बंगाल में सुरक्षा बलों ने स्थानीय लोगों पर लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी छोड़े। स्थानीय लोग कुछ शरारती तत्वों द्वारा इस्लामपुर के उत्तर दिनाजपुर सब डिविजन में वोट दिए जाने से रोकने के बाद हाईवे बाधित कर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

पश्चिम बंगाल भाजपा की महासचिव और रायगंज संसदीय सीट से पार्टी की उम्मीदवार देबश्री चौधरी ने तृणमूल कार्यकर्ताओं पर बूथ कैपचरिंग का प्रयास करने का आरोप लगाया। चौधरी ने कहा कि वे मुस्लिमों के बीच प्रचार भी कर रहे थे।

छत्तीसगढ़ में मतदान के दौरान राजनंदगांव में हुए विस्फोट में आईटीबीपी का जवान घायल हो गया।  जवान की पहचान कॉन्स्टेबल मान सिंह के रूप में हुई है। जवान खतरे से बाहर है। इससे पहले पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के दौरान चोपरा में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। इस घटना में ईवीएम टूट गई।

दूसरी तरफ शिवगंगा सीट से उम्मीदवार कार्ति चिदंबरम और उनकी पत्नी ने श्रीनिधि रंगराजन ने भी मतदान किया। इस चरण में जिन बड़े उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होना है उनमें केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, जुएल ओरांव, सदानंद गौड़ा, पी. राधाकृष्णन के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा, डीएमके के दयानिधि मारन, ए. राजा, कनिमोई भी शामिल हैं।

कांग्रेस की तरफ से वीरप्पा मोइली और राजबब्बर, एनसीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला और भाजपा की हेमामालिनी की किस्मत भी ईवीएम में बंद हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App