ताज़ा खबर
 

पीएम नरेंद्र मोदी के पास नकदी पांच साल में केवल 50 रुपए बढ़ी, 1.90 लाख का करा रखा है बीमा, जानें और कहां है निवेश

Lok Sabha Election 2019: पीएम नरेंद्र मोदी के नाम गांधीनगर के सेक्‍टर 1 में प्‍लॉट (नंबर 401/ए) भी है। यह प्‍लॉट कुल 3531.45 वर्ग फीट का है। 25 अक्‍टूबर, 2002 को उन्‍होंने यह प्‍लॉट खरीदा था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

Lok Sabha Election 2019: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास 31 मार्च, 2019 को नकदी (Cash in hand) मात्र 38750 रुपए थी। करीब पांच साल पहले भी उनके पास इतना ही कैश था। 14 अगस्‍त, 2014 को उन्‍होंने प्रधानमंत्री की वेबसाइट पर अपने पास 38700 रुपए कैश होने की जानकारी दी थी। गांधीनगर में उनके एसबीआई खाते में 4,143 रुपए जमा हैं। उनके पास 20 हजार रुपए का टैक्‍स सेविंग बॉन्‍ड भी है। यह बॉन्‍ड उन्‍होंने 25 जनवरी, 2012 को खरीदा था। उनका 7,61,466 रुपए का निवेश राष्‍ट्रीय बचत पत्र (एनएससी) में है। उनके पास एलआईसी की दो पॉलिसी हैं। एक के लिए 51333 रुपए और दूसरे के लिए 1,47,698 रुपए एकमुश्‍त (यानी कुल 1,90,347 रुपए) प्रीमियम दिया गया है। ये सारी जानकारी उन्‍होंने 26 अप्रैल को वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन पत्र दाखिल करते वक्‍त सौंपे हलफनामे में दी है।

प्रधानमंत्री के पास सोने की चार अंगुठियां हैं। इनका वजन 45 ग्राम है। इनकी कीमत 31 मार्च, 2019 को 1,13,800 रुपए बताई गई है। प्रधानमंत्री की चल संपत्‍ति का कुल मूल्‍य 1,41,36,119 रुपए बताया गया है। हलफनामे के मुताबिक उनके पास कुल 1.1 करोड़ की अचल संपत्ति है।

उनके नाम गांधीनगर के सेक्‍टर 1 में प्‍लॉट (नंबर 401/ए) भी है। यह प्‍लॉट कुल 3531.45 वर्ग फीट का है। 25 अक्‍टूबर, 2002 को उन्‍होंने यह प्‍लॉट खरीदा था। उन्‍हें यह प्‍लॉट मुख्‍यमंत्री होने के नाते रियायती दर पर मिला था। इसके लिए उन्‍होंने 1,30,488 रुपए चुकाए थे। अब इसका बाजार मूल्‍य एक करोड़ दस लाख रुपए है। प्रधानमंत्री ने हाल ही में अक्षय कुमार को दिए इंटरव्‍यू में बताया था कि वह यह प्‍लॉट पार्टी को दान देने का फैसला कर चुके हैं। कुछ कानूनी प्रक्रिया के चलते अभी यह अटका हुआ है।

पीएम मोदी ने इस बार के आम चुनाव के लिए हलफनामे में यह ब्यौरा दिया।   

2014 में मोदी के हलफनामे की प्रति का स्क्रीनशॉट।

हलफनामे के मुताबिक उन्होंने अपने को राजनीति विज्ञान में पोस्ट ग्रैज्यूएट बताया है।  उन्होंने 1967 में गुजरात एसएससी बोर्ड से एसएससी परीक्षा पास की है। इसके बाद 1978 में दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए पास किया है। गुजरात यूनिवर्सिटी से 1983 में एमए किया है। बता दें कि पीएम की डिग्री पर पहले विवाद हो चुका है। विपक्षी डीयू से पीएम की डिग्री का विवरण सार्वजनिक करने की मांग कर चुके हैं लेकिन यूनिवर्सिटी ने उसे मना कर दिया था। फिलहाल मामला कोर्ट में है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App