ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: कांग्रेस ने जेडीएस को एक दिन पहले दी थी तुमकुर लोकसभा सीट, आज मांग रही वापस

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कल रात देवगौड़ा से मुलाकात की और उनसे आग्रह किया। हमने अपने नेतृत्व को भी सूचना दी।"

Author Updated: March 15, 2019 8:32 PM
परमेश्वर ने कांग्रेस और जद (एस) के नेताओं के साथ कई बैठक की है। (एक्सप्रेस फोटो)

Lok Sabha Election 2019: कर्नाटक के उप-मुख्यमंत्री जी.परमेश्वर ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने जनता दल (सेक्युलर) से आग्रह किया है कि अगर पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी देवगौड़ा तुमकुर संसदीय सीट से चुनाव नहीं लड़ रहे हैं तो वह सीट कांग्रेस को वापस कर दी जाए। गठबंधन सहयोगी को तुमकुर सीट देने को लेकर कांग्रेस के स्थानीय नेतृत्व में असंतोष के बीच परमेश्वर का यह बयान सामने आया है।

परमेश्वर ने कांग्रेस और जद (एस) के नेताओं के साथ कई बैठक की है। हालांकि, उन्होंने कहा कि अगर जद (एस) तुमकुर से देवगौड़ा को मैदान में उतारेगी तो उनकी पार्टी को कोई आपत्ति नहीं है। इस सीट से कांग्रेस के एस पी मुद्दाहनुमेगौड़ा इस समय सांसद हैं।

उपमुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमारा एक वर्तमान सांसद है। हमारी स्क्रींिनग कमेटी की बैठक के दौरान सिद्धांत रूप में हमने एक प्रस्ताव पास किया कि सभी 10 वर्तमान सांसदों को टिकट दिया जाएगा। इसके बाद, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और जद (एस) सुप्रीमो देवगौड़ा के बीच बैठक में तुमकुर उन्हें दिया गया।’’

संवाददाताओं से यहां बातचीत में परमेश्वर ने कहा कि सभी अन्य वर्तमान सांसदों को जब टिकट दिया जा रहा हो तब एक को टिकट नहीं देना सही नहीं होगा। ऐसे में उन्होंने देवगौड़ा से मुलाकात की और कांग्रेस को सीट वापस करने को लेकर उनसे आग्रह किया।

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कल रात देवगौड़ा से मुलाकात की और उनसे आग्रह किया। हमने अपने नेतृत्व को भी सूचना दी। आज सुबह भी मैंने मुख्यमंत्री (एच डी कुमारस्वामी) से हमारे लिए सीट छोड़ने का आग्रह किया। उन्होंने (कुमारस्वामी) ने कहा कि वह चर्चा (अपने पार्टी नेताओं के साथ) करेंगे।’’

समान चुनाव चिन्ह को लेकर दिनाकरन की याचिका पर सुनवाई पर कोर्ट सहमतः उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को अन्नाद्रमुक के पूर्व नेता टीटीवी दिनाकरन और वी के शशिकला की एक याचिका पर सुनवाई पर सहमति जताई। इसमें तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी के नेतृत्व वाले धड़े को ‘दो पत्ती’ वाला चुनाव चिन्ह देने के दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश को चुनौती दी गई है। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने दिनाकरन के इस अनुरोध पर चुनाव आयोग को नोटिस जारी किया कि उन्हें समान चुनाव चिन्ह ‘‘प्रेशर कुकर’’ का इस्तेमाल करने की अनुमति दी जाए। पीठ ने 25 मार्च तक जवाब मांगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: अखिलेश यादव की कांग्रेस को नसीहत- गठबंधन में कैसे सहयोगियों को करें मैनेज, भाजपा से सीखें
2 2019 Lok Sabha Election: सपा की चौथी कैंडिडेट लिस्ट जारी, मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव को नहीं मिला टिकट
3 Lok Sabha Election 2019: तो क्‍या शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने बना लिया बीजेपी छोड़ने का मन? यह ट्वीट इशारा तो नहीं?