ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: तेलंगाना की इस सीट पर रोचक मुकाबला: 895 करोड़ रुपये के सामने कुल 500 रुपये संपत्ति वाला उम्‍मीदवार

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): वहीं, भारी कर्ज के तले दबे प्रत्याशियों में सबसे आगे भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की माला राज्यलक्ष्मी हैं। वह उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल से चुनाव लड़ रही हैं और उन पर लगभग 135 करोड़ रुपए का कर्ज है।

lok sabha, lok sabha election, lok sabha election 2019, lok sabha election 2019 schedule, lok sabha election date, lok sabha election 2019 date, लोकसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव 2019, chunav, lok sabha chunav, lok sabha chunav 2019 dates, lok sabha news, election 2019, election 2019 newsकांग्रेस की तरफ से कोंडा विश्वेश्वर रेड्डी चुनावी मैदान में हैं, जिनका सामना नल्ला प्रेम कुमार से होगा। (फाइल फोटो)

Lok Sabha Election 2019: आम चुनाव में गुरुवार (11 अप्रैल, 2019) को पहले चरण का मतदान है। वैसे तो यह चुनाव कई मायनों में खास है, पर तेलंगाना की चेवेल्ला सीट पर इस बार मुकाबला बेहद रोचक नजर आ रहा है। दरअसल, वहां 895 करोड़ रुपये के सामने कुल 500 रुपये की संपत्ति वाला उम्मीदवार चुनावी मैदान में खड़ा है।

‘इलेक्शन वॉच’ व एसोसिशन फॉर डेमोक्रेटिक रीफॉर्म्स (एडीआर) के आंकड़ों के हवाले से रिपोर्ट्स में कहा गया कि सूबे में पहले चरण की वोटिंग में लगभग 401 करोड़पति प्रत्याशी आमने-सामने हैं। उनमें चेवेल्ला से कांग्रेस के कोंडा विश्वेश्वर रेड्डी सबसे अमीर हैं। उनकी संपत्ति तकरीबन 895 करोड़ है, जबकि रेड्डी के खिलाफ सबसे गरीब उम्मीदवार नल्ला प्रेम कुमार चुनाव में किस्मत आजमा रहे हैं। प्रेम जनता दल से चुनाव लड़ रहे कुमार के नाम महज 500 रुपए की संपत्ति है। वहीं, पहले चरण में पांच करोड़ से अधिक की संपत्ति वाले करीब 177 प्रत्याशी मैदान में हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रेड्डी की चल संपत्ति 856 करोड़ है, जबकि उनके नाम 38 करोड़ से अधिक की अचल संपत्ति है। आंकड़े यह भी बताते हैं कि पहले चरण में मैदान में लगभग 1279 प्रत्याशी उतरे हैं। इनमें 1266 के शपथ-पत्रों का एडीआर ने विश्लेषण किया, जिसके अनुसार- राष्ट्रीय दलों से 225, राज्य स्तरीय दलों से 124, गैर मान्यता प्राप्त पार्टियों से 364 और निर्दलीय प्रत्याशियों की संख्या 553 है। साथ ही 6.63 करोड़ रुपए की इन उम्मीदवारों के पास औसतन सपंत्तियां हैं।

वहीं, भारी कर्ज के तले दबे प्रत्याशियों में सबसे आगे भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की माला राज्यलक्ष्मी हैं। वह उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल से चुनाव लड़ रही हैं और उन पर लगभग 135 करोड़ रुपए का कर्ज है। उनके बाद बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के प्रत्याशी मलूक नागर पर 101 करोड़ से अधिक का बकाया है। वह उत्तर प्रदेश के बिजनौर से चुनाव लड़ रहे हैं।

आंकड़ों के अनुसार, 67 सालों और अब तक हुए 16 लोकसभा चुनावों में कुल 4,788 सांसदों का चयन किया जा चुका है। वहीं, उस दौरान कुल 83106 प्रत्याशियों ने अपनी किस्मत आजमाई थी।

Read here the latest Lok Sabha Election 2019 News, Live coverage and full election schedule for India General Election 2019

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: बेल खारिज होने पर लालू प्रसाद यादव ने जेल से लिखी चिट्ठी- उम्र साथ नहीं दे रही, मैं कैद में हूं, मेरे विचार नहीं
2 एक्टर रणवीर शौरी बोले- जो लोग साठ साल में देश नहीं सुधार पाए वो अब न्याय की बात कर रहे हैं, क्या ये न्याय है?
3 कन्हैया कुमार के पास न गाड़ी, न बंगला, सिर्फ 1.5 डिसमिल गैर कृषि भूमि, एक साल में घट गई 60% इनकम