Lok Sabha Election 2019: 48 घंटे पहले थमा पहले चरण का चुनाव प्रचार, दांव पर दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): चुनाव आचार संहिता के मुताबिक 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार अभियान थमने के दौरान सोशल मीडिया, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के अलावा जनसभा या किसी अन्य माध्यम से प्रचार प्रतिबंधित रहेगा।

Elections, General Elections, Elections 2019, education of candidates, elections in UP, UP elections, up elections 2019, election phase 1
प्रतीकात्मक चित्र फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

Lok Sabha Election 2019: मंगलवार (9 अप्रैल 2019) को लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 11 अप्रैल को होने वाले मतदान के लिए चुनाव प्रचार मंगलवार शाम थम गया। पहले चरण में 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों के लिये मतदान होगा। इनमें आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, उत्तराखंड, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम और तेलंगाना की सभी लोकसभा सीटें शामिल हैं, जिनके लिये मतदान होगा। इसके अलावा उत्तर प्रदेश की 8 लोकसभा सीटों (सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद और नोएडा) और बिहार की चार सीटों (औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई), असम की पांच और महाराष्ट्र की सात, ओडिशा की चार और पश्चिम बंगाल की दो सीटों के लिये मतदान होगा। आयोग द्वारा घोषित चुनाव कार्यक्रम के अनुसार पहले चरण के मतदान वाली 91 सीटों पर सुबह सात बजे मतदान शुरु होगा। इनमें से कुछ सीटों पर शाम चार बजे तक, कुछ पर पांच बजे तक और कुछ सीटों पर छह बजे तक मतदान होगा।

मतदान से 48 घंटे पहले थम जाता है चुनाव प्रचार: चुनाव आचार संहिता के मुताबिक 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार अभियान थमने के दौरान सोशल मीडिया, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के अलावा जनसभा या किसी अन्य माध्यम से प्रचार प्रतिबंधित रहेगा। निर्वाचन नियमों के अनुसार मतदान खत्म होने के समय से 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार थम जाता है। इसके मुताबिक जिन सीटों पर शाम चार बजे तक मतदान है, उन सीटों पर मंगलवार शाम चार बजे से प्रचार थम गया। इसी प्रकार पांच और छह बजे तक मतदान वाली सीटों पर आज शाम पांच बजे और छह बजे से प्रचार पर पाबंदी लागू हो गयी। उत्तर प्रदेश की आठ और पश्चिम बंगाल की दो सीटों पर सुबह सात बजे से शाह छह बजे तक और बिहार, मणिपुर, मेघालय, नगालैंड और ओडिशा में सीटों पर सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक मतदान होगा।

बता दें कि चुनाव आयोग द्वारा पहले चरण के मतदान के लिए 18 मार्च को अधिसूचना जारी होने के बाद प्रचार अभियान जोर शोर से शुरू हो गया था। आयोग ने 17वीं लोकसभा के गठन के लिये 543 सीटों पर सात चरण में होने वाले चुनाव का कार्यक्रम दस मार्च को घोषित किया था।

भले ही, 20 राज्यों में पहले चरण की सीटों पर होने वाले मतदान के लिए चुनाव प्रचार थम गया हो लेकिन अगले चरण के लिए तैयारियां अब शुरू होंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने गृह राज्य गुजरात में 23 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए बुधवार को राज्य के एकदिवसीय दौरे के दौरान सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात में दो चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को अमेठी सीट पर नामांकन पत्र दाखिल करने के साथ-साथ अपने निर्वाचन क्षेत्र में रोडशो भी करेंगे। इस दौरान संप्रग चेयरपर्सन सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी उनके साथ रहेंगी।

पढें Elections 2021 समाचार (Elections News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
और तल्ख हो सकते हैं केंद्र व सपा सरकार के रिश्ते
अपडेट