ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: आनंद शर्मा और जयराम रमेश के चलते भाजपा से पिछड़ी कांग्रेस, राहुल गांधी खफा!

Lok Sabha Election 2019: कांग्रेस के चुनाव प्रचार में देरी पार्टी में कथित तौर पर दो गुट होने की वजह से हुई है। एक आनंद शर्मा हैं, जिनके नेतृत्व में लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस पब्लिसिटी कमिटी काम कर रही है। दूसरे हैं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश, जो पार्टी कोर ग्रुप के कोऑर्डिनेटर हैं और अलग मुद्दे पर काम कर रहे हैं।

National news, Rahul gandhi, Narendra Modi, PM Modi, Rafale, youth convention, Air Force, PM Narendra Modi, BJP, Congressकांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी। (Photo: PTI)

Lok Sabha Election 2019: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस बात से खासे नाराज है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपना प्रचार अभियान पहले ही जमीनी स्तर पर शुरू कर दिया है, जबकि कांग्रेस अभी तक विज्ञापन के लिए फर्म का चुनाव तक नहीं कर पाई है। भाजपा उसी मशूहर प्रचार और विज्ञापन फर्म के पास पहुंची है जिसने साल 2014 में पार्टी के पक्ष में प्रचार किया। 2019 के चुनाव पार्टी का मुख्य स्लोगन ‘अबकी बार मोदी सरकार’ था, वहीं 2019 में चुनाव प्रचार का स्लोगन ‘नामुमकिन अब मुमकिन’ मालूम पड़ता है। हाल के सरकारी विज्ञापनों में यह दिखाई भी दिया है।

इंडियन एक्सप्रेस के इनसाइड ट्रैक में छपे कूमी कपूर के एक कॉलम के मुताबिक कांग्रेस के चुनाव प्रचार में देरी पार्टी में कथित तौर पर दो गुट होने की वजह से हुई है। एक आनंद शर्मा हैं, जिनके नेतृत्व में लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस पब्लिसिटी कमिटी काम कर रही है। दूसरे हैं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश, जो पार्टी कोर ग्रुप के कोऑर्डिनेटर हैं और अलग मुद्दे पर काम कर रहे हैं। खबर के मुताबिक एक पक्ष ने अन्य समिति के सदस्यों को बुलाए बिना शॉर्टलिस्टिंग के लिए अपने पावरपॉइंट प्रस्तावों की प्रस्तुति के लिए फर्मों को आमंत्रित करने का भी आरोप लगाया है। एक बात यह भी है कि एक अल्पज्ञात फर्म को शॉर्टलिस्ट भी कर लिया गया है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा लोकसभा चुनाव में पार्टी की रणनीति की अंतिम रूपरेखा तैयार हो चुकी है। भाजपा के पुराने मुख्यालय 11 अशोका रोड, नई दिल्ली में विशाल वॉर रूम बनाया गया है, जहां प्लाज्मा के विशाल टीवी स्क्रीन लगाए गए हैं। हर राज्य के बड़े-बड़े इलेक्ट्रॉनिक्स नक्शे भी लगाए गए हैं, जो लेटेस्ट डेटा से अपडेट रहेंगे। 24 घंटे सातों दिनों काम करने वाले वॉर रूम में चुनाव कार्यक्रम, मोदी की रैलियों, शाह की बैठकों आदि के बारे में सभी तरह की जानकारी होगी।

Next Stories
1 चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को दी नसीहत, कहा- अभियान के दौरान इस्तेमाल न करें सेना की तस्वीरें
2 बिहारः बेटी की शादी के कार्ड पर लिखवाया, ‘तोहफे मत लाना, राष्ट्र कल्याण के लिए वोट मोदी को देना’
3 राज ठाकरे बोले- फिर हो सकती है पुलवामा जैसी घटना, भाजपा को चुनाव जीतने का टेंशन है
ये पढ़ा क्या?
X