ताज़ा खबर
 
title-bar

Lok Sabha Election 2019: चुनाव प्रचार करने गए भाजपा सांसद और विधायक को ग्रामीणों ने खदेड़ा, विकास ना होने से थे नाराज

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): बताया जा रहा है कि सांसद की गाड़ी जब गांव में दस्तक थी तो लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया लोगों को कहना कि सांसद जी के यहां काम लेकर जाओ तो वह पहचानते नहीं हैं।

गांव वालों ने इस दौरान बीजेपी सांसद रविंद्र कुशवाहा और विधायक काली प्रसाद से अभद्रता की।(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Lok Sabha Election 2019:  लोकसभा चुनाव 2019 के लिए नेता अपने-अपने चुनावी क्षेत्र में वोट मांगने के लिए पहुंच रहे हैं। कई जगहों पर नेताओं का जमकर स्वागत हो रहा है तो  कई जगहों पर नाराज जनता नेता जी पर गुस्सा निकाल रही है। ऐसा ही कुछ हुआ बीजेपी के सांसद और विधायक के साथ जब वह वोट मांगने अपने चुनावी क्षेत्र में पहुंचे। उत्तर प्रदेश के सलेमपुर पुरैना गांव पहुंचे जहां मौजूद ग्रामवासियों ने नेताओं के साथ  अभद्र शुरू कर दी। इस दौरान नौबत हाथापाई तक आ गई लेकिन जैसे तैसे मामला शांत हुआ। जिसके बाद  बीजेपी सांसद रविंद्र कुशवाहा और विधायक काली प्रसाद को बाहर निकाला जा सका।

क्या है मामला:
बताया जा रहा है कि सांसद की गाड़ी जब गांव में दस्तक थी तो लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया लोगों को कहना कि सांसद जी के यहां काम लेकर जाओ तो वह पहचानते नहीं हैं। और वहां मौजूद लोग लोगों का अपमान भी करते हैं। इसके बाद सांसद और विधायक  ग्रामीणों से उलझने लगे। लोगों का कहना है कि  सांसद और विधायक गाली देने लगे और बोला कि हमें तुम्हारे वोट की जरूरत नहीं है जिसके बाद लोगों ने  उन्हें गांव से घदेड़ना शुरू कर दिया। बड़े-बुजुर्गों के हस्तक्षेप के बाद मामला रफा दफा हुआ और सांसद और विधायक जी गांव से बाहर जा पाए।

भाजपा का कहना है कि यह किसी राजनीतिक चाल का नतीजा है। पार्टी अपने स्तर से मामले की जांच करेगी और जरूरत पड़ने पर लोगों से कानूनी कार्यवाही की जाएगी। बता दें कि सांसद रविंद्र कुशवाहा ने पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के टिकट से इस सीट पर जीत हासिल की थी। बीजेपी ने एक बार फिर  उन पर भरोसा जताया है और उन्हें इस सीट  पर टिकट दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App