ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: भाजपा प्रत्याशी को अदालत ने भेजा जेल, 25 दिन बाद होने वाले हैं मतदान

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव से पहले केरल में एक स्थानीय अदालत ने पिछले साल नवंबर में सबरीमाला मंदिर में एक महिला श्रद्धालु पर हमला करने से जुड़े मामले में भाजपा प्रत्याशी को जेल भेज दिया।

bjpतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

Lok Sabha Election 2019: केरल में लोकसभा चुनाव से पूर्व भाजपा को झटका लगा है। यहां की एक स्थानीय अदालत ने पिछले साल नवंबर में सबरीमाला मंदिर में एक महिला श्रद्धालु पर कथित तौर पर हमला करने से जुड़े मामले में भाजपा के एक प्रत्याशी को जेल भेज दिया। बताया जा रहा है कि जेल भेजा गया भाजपा प्रत्याशी भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) की राज्य इकाई का अध्यक्ष भी हैं।

सबरीमाला विवाद में भेजे गए जेल: बता दें कि केरल में 23 अप्रैल को मतदान होना है। लेकिन उससे पहले ही गुरुवार को एक स्थानीय अदालत ने भाजपा के कोझीकोड संसदीय सीट से प्रत्याशी प्रकाश बाबू को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। प्रकाश बाबू को बीते साल सबरीमाला मंदिर में एक महिला श्रद्धालु पर कथित तौर पर हमला करने से जुड़े मामले में जेल की सजा सुनाई गई है।

National Hindi News Today LIVE: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

ऐसे भेजे गए जेल: बताया जा रहा कि भाजपा प्रत्याशी प्रकाश बाबू भाजयुमो की राज्य इकाई के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र में प्रचार करने के दौरान खुद को पम्बा पुलिस थाने में पेश किया, जहां उनके खिलाफ पहले से मामला दर्ज था। इसके बाद पुलिस ने उन्हें रन्नी स्थित सीजेएम कोर्ट में पेश किया, जहां कोर्ट ने उन्हें जमानत देने से मना कर दिया। इसके बाद कोर्ट ने भाजपा उम्मीदवार प्रकाश बाबू को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। गौरतलब है कि पिछले साल सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर सबरीमाला मंदिर को सभी उम्र की महिलाओं के लिए खोले जाने के खिलाफ प्रदर्शन हुआ था। इस प्रदर्शन में शामिल रहने के मामले में प्रकाश बाबू ने जमानत याचिका भी दायर की थी।

मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के बाद हुआ था प्रदर्शन: बता दें कि पिछले साल केरल के सबरीमाला में मंदिर दो महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ जमकर विरोध-प्रदर्शन हुआ था। कहा गया कि मंदिर में महिलाओं ने प्रवेश कर सैंकड़ों साल पुरानी परंपरा को तोड़ दिया है। लेकिन सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद कनकदुर्गा (44) और बिंदू (42) के ने मंदिर में प्रवेश किया था, जिसके बाद हिंदूवादी संगठनों ने पूरे राज्य में जमकर विरोध प्रदर्शन किया था।

Read here the latest Lok Sabha Election 2019 News, Live coverage and full election schedule for India General Election 2019

Next Stories
1 दिग्विजय ने साधा निशाना- 2014 से पहले मोदी ने क्यों नहीं बताई वैवाहिक स्थिति?
2 Bihar: महागठबंधन ने किया सीटों का बंटवारा, तेजस्वी यादव ने किया उम्मीदवारों का ऐलान
3 Lok Sabha Election 2019: दिग्विजय सिंह ने सरकारी कर्मचारियों से मांगी माफी, कहा- 2003 में हो गई थी ‘भूल’
आज का राशिफल
X