ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: 2014 में मोदी के लिए जान दे दिए थे, पांच साल में हमें ही मार दिया- पत्रकार के सवाल पर किसान ने गुस्से में बयां किया दर्द

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): बिहार में इस बार किसान केंद्र की एनडीए सरकार से काफी नाराज हैं। किसानों का कहना है कि मोदी सरकार ने 5 साल में ही उन्हें मार दिया है।

अगड़ी जाति के किसान भी मोदी सरकार से नाराजगी जता रहे हैं। (फोटोः एनडीटीवी विडियो स्क्रीनशॉट)

Lok Sabha Election 2019: देश में किसान आज जिस तरह की समस्याओं का सामना कर रहे हैं उसका दर्द बिहार के किसानों की बातों से साफ झलक रहा है। लोकसभा चुनाव में विपक्ष किसानों के मुद्दे को प्रमुखता से उठा रहा है। भाजपा के पारंपरिक वोटर माने जाने वाले  अगड़ी जाति के किसानों में भी मोदी सरकार की नीतियों को लेकर भारी नाराजगी देखने को मिल रही है।

न्यूज चैनल एनडीटीवी के प्रणय रॉय से बातचीत में एक किसान ने कहा कि पिछली बार हमने कमल के निशान पर वोट देकर भूल की थी। अब सरकार कह रही है कि गरीब को रखेंगे ही नहीं सिर्फ बड़े लोगों (अगड़ी जातियों) को ही रखेंगे। नहर बनाया तो दूसरी तरफ से बनाया। उसमें भी पानी नहीं है। हम लोग तीन किलोमीटर दूर से पानी लाते हैं।

बालाकोट और पुलवामा के बारे में पूछे जाने पर किसानों ने कहा कि हमें इस सब से क्या मतलब है। वैसे भी कोई हमारे देश को लेकर भाग थोड़ी जाएगा। उन्होंने कहा कि अब ये वो हिंदुस्तान नहीं रहा है कि कोई भी इसे गुलाम बना लेगा। उन्होंने कहा कि ये सब ड्रामाबाजी है। हमने जितने प्यार से उसको (मोदी को) वोट दिया था अब उससे नफरत हो गया है। किसानों ने बताया कि हमने मोदी के चलते अपनी जान तक दे दी थी हमने कहा था हमें मोदी को लाना है लेकिन हमारे लिए एक काम नहीं किया। रोजगार नहीं मिला।

तेल के बढ़ते दामों पर नाराजगीः किसानों ने महंगाई के मुद्दे पर भी मोदी सरकार को खूब सुनाई। किसानों ने कहा कि मोदी राज में महंगाई इतनी बढ़ गई। तेल का दाम रोज एक रुपया बढ़ जाता है। इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था। नेपाल में तेल 45 रुपये यहां 70 रुपये है। किसानों के कहा कि पानी की इतनी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। किसानों ने कहा कि 50 किलो वाला खाद के पैकेट का वजन कर 45 किलो कर दिया। इसके अलावा उसका दाम भी बढ़ा दिया।
पटना में मोदी का समर्थनः  हार में सिर्फ मोदी का विरोध ही नहीं बल्कि कई लोग मोदी के समर्थन में भी थे। राजधानी पटना में मोदी के समर्थक अधिक दिखे। हालांकि, लोगों का मानना था कि भाजपा और महागठबंधन में कड़ी टक्कर है। राजधानी में लोगों को भरोसा है कि मोदी सरकार देश के लिए अच्छा काम कर रहे हैं। लोगों ने मोदी सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक, नौकरियों में सर्वणों के लिए 10 फीसदी आरक्षण की बात कही। पटना में व्यवसायियों को मोदी लहर नजर आ रही है। यहां लोग रविशंकर प्रसाद के बड़े अंतर से जीतने की बात कह रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App