ताज़ा खबर
 

VIDEO: सुरक्षाकर्मी से भिड़ गए तृणमूल प्रत्याशी मदन मित्रा, जमकर हुई बहस

मदन मित्रा की गिनती टीएमसी के वरिष्ठ नेताओं में की जाती है। बहुचर्चित शारदा चिटफंड घोटाले में भी मदन मित्रा का नाम सामने आया था।

west bengal violenceमतदान केन्द्र पर सुरक्षाकर्मियों से उलझते टीएमसी नेता। (ani image)

पश्चिम बंगाल में आम चुनावों के दौरान हिंसा की कई घटनाएं सामने आयीं हैं। सातवां और आखिरी चरण भी इससे अछूता नहीं है। अंतिम चरण के दौरान भी अभी तक कई जगह पर हिंसा और तोड़फोड़ की घटनाएं सामने आयी हैं। अब टीएमसी नेता मदन मित्रा का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में मदन मित्रा एक मतदान केन्द्र पर सुरक्षाकर्मियों के साथ बहस करते नजर आ रहे हैं। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि सुरक्षाकर्मी उन्हें समझाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन मदन मित्रा किसी बात से काफी नाराज दिखाई दे रहे हैं और लगातार सुरक्षाकर्मियों के साथ बहस कर रहे हैं।

पश्चिम बंगाल में आम चुनावों के साथ ही भाटपारा विधानसभा सीट पर उपचुनाव हो रहा है। इस सीट पर टीएमसी ने मदन मित्रा को अपना उम्मीदवार बनाया है। भाटपारा सीट पर रविवार को मतदान के कुछ घंटों पहले ही हिंसा भड़क गई थी। दरअसल हिंसा के दौरान भाजपा और टीएमसी के कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए थे। इस हिंसा में भाजपा नेता अर्जुन सिंह गोली लगने से घायल हो गए। इसके बाद लोगों की भीड़ ने दो कारों में आग लगा दी। भाजपा और टीएमसी दोनों ही पार्टियां एक दूसरे पर हिंसा भड़काने का आरोप लगा रही हैं। उल्लेखनीय है कि मदन मित्रा की गिनती टीएमसी के वरिष्ठ नेताओं में की जाती है। बहुचर्चित शारदा चिटफंड घोटाले में भी मदन मित्रा का नाम सामने आया था। इस मामले में मदन मित्रा काफी समय जेल में बिताकर आए हैं। मदन मित्रा ममता बनर्जी की सरकार में ट्रांसपोर्ट मंत्री भी रह चुके हैं।

वहीं ऐसे ही एक अन्य मामले में बारासात लोकसभा सीट से टीएमसी सांसद और उम्मीदवार काकोली घोष दस्तीदार भी एक पोलिंग बूथ पर सुरक्षाकर्मियों से उलझ गई। इस दौरान टीएमसी उम्मीदवार ने बूथ पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों से खूब बहस की और उन्हें ऊंगली भी दिखाई। घटना के बाद में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें बूथ पर गड़बड़ी की खबर मिली थी, जिसके बाद वह यहां पहुंची। टीएमसी नेता ने कहा कि जब उन्होंने बूथ पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों से बात की तो वह भी कुछ संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। भाजपा नेता और जादवपुर लोकसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार अनुपम हाजरा ने भी टीएमसी कार्यकर्ताओं पर फर्जी वोटिंग करने का आरोप लगाया। भाजपा नेता का आरोप है कि महिलाएं चेहरा ढककर फर्जी वोटिंग कर रही हैं। भाजपा नेता का कहना है कि टीएमसी के लोगों ने भाजपा के बूथ एजेंटों को भी पीटा और उनकी गाड़ी में तोड़-फोड़ की।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: मुफलिसी से तंग पिता-पति-ससुर दे चुके हैं जान, चंदा लेकर चुनाव लड़ रही यह महिला प्रत्याशी
2 Lok Sabha Election 2019: ‘मोदी जी अवतार पुरुष’, कभी खोला था मोर्चा, अब बीजेपी के लिए वोट मांग रहा पीएम का हमशक्ल
3 Lok Sabha Election 2019: बंगाल में चुनाव के दौरान हिंसा, बदसलूकी होने पर रो पड़ा चुनाव अधिकारी!
ये पढ़ा क्या?
X