ताज़ा खबर
 

सीएम ने कहा- कुछ लोग लगातार मुझे मेरी जात‍ि याद कराते रहते हैं 

राज्य में एझवा समुदाय अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत आता है। इसकी आबादी केरल में करीब 28 फीसदी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ केरल के सीएम पी विजयन। (फाइल फोटो)

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने विपक्षी नेताओं पर हमला बोलते हुए कहा है कि कुछ लोग लगातार उन्हें उनकी जाति की याद दिलाते रहते हैं। गुरुवार (03 जनवरी) को तिरुवनंतपुरम में पत्रकारों से बात करते हुए विजयन ने कहा, “विपक्षी नेता अक्सर मुझे मेरी जाति के बारे में याद दिलाते रहते हैं।” उन्होंने कहा, “मैं एक ताड़ी उतारने वाले का बेटा हूँ और उनका मानना ​​है कि विजयन को भी ताड़ी ही उतारनी चाहिए।” बता दें कि विजयन एझवा समुदाय से ताल्लुक रखते हैं जिनका पारंपरिक पेशा नारियल के पेड़ पर चढ़कर उसका ताड़ी (रस) निकालना है। विजयन ने बताया कि उनके पिता भी नारियल के पेड़ों पर चढ़कर ताड़ी उतारा करते थे।

राज्य में एझवा समुदाय अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत आता है। इसकी आबादी केरल में करीब 28 फीसदी है। द न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक विजयन का यह बयान तब आया है, जब केरल भाजपा के मुखपृष्ठ ‘जन्मभूमि’ में उनके खिलाफ एक कार्टून छापा गया। मलयालम अखबार के कवर पेज पर पिछले महीने छपे कार्टून में दिखाया गया था कि दो लोग आपस में बात कर रहे हैं और सबरीमाला विवाद में महिलाओं की दीवार की योजना बनाने पर विजयन के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव पर चर्चा कर रहे हैं। कार्टून के कैप्शन में लिखा है: “जब नारियल के पेड़ पर चढ़ने वाले किसी शख्स को सत्ता दे दी जाएगी तो उसका हश्र यही होगा।”

सीपीएम ने इस कार्टून की कड़ी आलोचना की है। राज्य सभा सांसद एमए बेबी ने इसे जाती सूचक गाली करार दिया है और उसे अपमानजनक कहा है। राज्य के वित्त मंत्री थॉमस इसाक ने कहा कि भाजपा के मुख पत्र में छथपे कार्टून ने संघ परिवार की विचारधारा को उजागर कर दिया है कि वे लोग जाति व्यवस्था द्वारा थोपे गए शासन को वापस लाना चाहते हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा सबरीमाला मंदिर में 10 से 50 वर्ष की महिलाओं के प्रवेश की इजाजत देने के बाद से केरल के हिन्दू संगठनों में उबाल है। वहां लगातार महिलाएं मंदिर में प्रवेश की कोशिश करती रहीं लेकिन लंबे संघर्ष के बाद बुधवार (02 जनवरी) को दो महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश कर अयप्पा स्वामी के दर्शन किए थे। भाजपा और संघ से जुड़े लोग इसे पी विजयन की साजिश करार दे रहे हैं और उन पर राजनीतिक हमला बोल रहे हैं।

Next Stories
1 BJP को सहयोगी दल का अल्टीमेटम- 100 दिनों में करो OBC रिजर्वेशन का बंटवारा, वर्ना गठबंधन नहीं
2 गठबंधन से टूटी समझौते की आस, इन पांच राज्यों की 33 सीटों पर कैंडिडेट उतारेगी आप
3 सांसद बन नीतीश को जवाब देना चाहते हैं शरद, चाह रहे पप्‍पू यादव की मदद, लालू बन रहे रोड़ा
ये पढ़ा क्या?
X