ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: पप्पू यादव ने चुनाव नहीं लड़ने के दिए संकेत, पर खेल बिगाड़ने उतार सकते हैं 6 कैंडिडेट

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): बकौल पप्पू यादव, "जब नीतीश कुमार और लालू यादव एक हो सकते हैं। नीतीश व बीजेपी एक हो सकते हैं। शिवसैनिक और बीजेपी एक हो सकते हैं। लालू जी के सम्मान के अलावा तो मैंने कभी कोई बात नहीं की, तब फिर तेजस्वी जी को हमसे किस बात से खुन्नस है?"

Loksabha Elections 2019, Elections 2019, Pappu Yadav, Jan Adhikar Party Loktantrik, Fight, Candidates, Araria, Madhepura, Saharsa, Purnea, Patna, Bihar, State News, Hindi Newsजन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव। (एक्सप्रेस फोटोः रेणुका पुरी)

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव में जन अधिकार पार्टी इस बार बिहार में कुछ अलग करती दिख सकती है। पार्टी के संरक्षक पप्पू यादव ने हाल ही में चुनाव न लड़ने के संकेत दे दिए हैं। कहा है कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के फैसले का इंतजार कर रहे हैं। अगर परिस्थितियां प्रतिकूल रहीं, तब वह चुनाव नहीं लड़ेंगे। हालांकि, उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि अगर वह चुनावी मैदान में नहीं उतरे, तब वह बिहार में सीटों का खेल बिगाड़ने के लिए पार्टी से छह उम्मीदवार उतार सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, उनकी पार्टी आम चुनाव के मद्देनजर तैयारी में जुटी है।

एक चैनल से खास बातचीत में वह बोले, “इंसानियत और मानवता को बचाने की बारी आएगी। लोगों की सेक्युलिरिज्म से बीजेपी से लड़ाई न होकर, सिर्फ अपने अहंकारों की लड़ाई लड़ते रहेंगे। जिस पर मैं भरोसा करता हूं, जनता पर। चुनाव आते-आते वह भी बंट जाए, तब किसके भरोसे चुनाव लड़ा जाए। एक तरफ आप देश को बचाना चाहते हैं, दूसरी तरफ अपने अहंकारों में भरे रहेंगे…तो हमारी पार्टी चुनाव लड़ेगी 6 जगह। हो सकता है हम और जगहों पर भी लड़ें।”

सीटों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा- हम पूर्णिया, मधेपुरा, अररिया, भागलपुर पर लड़ सकती है। अन्य जगहों पर भी हमारी पार्टी चुनावी मैदान में उतर सकती है। मैं सिर्फ राहुल गांधी के फैसले का इंतजार कर रहा हूं। मैंने सहरसा, मधेपुरा और पूर्णिया के लोगों से पूछा है…अगर वे मेरे 40 साल सेवा करने का फैसला करेगी, तब तो ठीक है। अन्यथा पटना-दिल्ली की परिक्रमा कर के राजनीति हमें भी करनी पड़ेगी, तब मैं उससे तौबा ही करूंगा।

बकौल पप्पू यादव, “जब नीतीश कुमार और लालू यादव एक हो सकते हैं। नीतीश व बीजेपी एक हो सकते हैं। शिवसैनिक और बीजेपी एक हो सकते हैं। लालू जी के सम्मान के अलावा तो मैंने कभी कोई बात नहीं की, तब फिर तेजस्वी जी को हमसे किस बात से खुन्नस है? जनता अगर उन्हें मुख्यमंत्री बनेंगे, तो दुनिया स्वागत करेगी। वह उस लायक होंगे, तब उसमें पप्पू यादव का कहां योगदान होगा?”

देखें, वीडियोः

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शीला दीक्षित ने दिया ऐसा बयान, केजरीवाल-सिसोदिया बोले- मोदी जी को दोबारा पीएम बनाने पर काम कर रही है कांग्रेस
2 Lok Sabha Election 2019: कन्नौज में डिंपल यादव को घेरने की तैयारी, बीजेपी नेता ने बताया प्लान
3 राहुल की रैली में न बुलाए जाने से भड़के थे सिद्धू, कांग्रेस ने अब बनाया स्टार प्रचारक
ये पढ़ा क्या?
X