ताज़ा खबर
 

सर्वे: 23% लोगों ने मोदी सरकार को नहीं दिया अभिनंदन की रिहाई का क्रेडिट, 34% को आतंकियों के खात्मे पर शक

Wing Commander Abhinandan Varthaman: पाकिस्तानी लड़ाकू विमान का पीछा करने के दौरान भारतीय विमान मिग 21 क्रैश हो गया था और विंग कमांडर अभिनंदन को पाक में हिरासत में ले लिया गया था। 1 मार्च को उनकी सकुशल वापसी हुई थी।

विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी का जश्न मनाते भारतीय। (Photo: PTI)

Wing Commander Abhinandan Varthaman: भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की सकुशल भारत वापसी के लिए भाजपा नेताओं व समर्थकों ने पीएम नरेंद्र मोदी को श्रेय दिया। देश में जगह-जगह अभिनंदन की तस्वीर लगा पीएम मोदी और भाजपा सरकार को इसका श्रेय देने की कोशिश की गई। लेकिन देश के 23 प्रतिशत लोगों ने मोदी सरकार को अभिनंदन की रिहाई का श्रेय नहीं दिया। वहीं, 34 प्रतिशत लोगों को आतंकियों के खात्मे पर शक है। यह आंकड़ा एक सर्वे के माध्यम से सामने आया है।

दरअसल, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले आत्मघाती हमला किया गया था। इसके बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर हमले की जिम्मेदारी लेने वाले आतंकी संगठन जैश ए मुहम्मद के शिविरों पर हमला किया था। कहा गया कि इस हमले में करीब 300 आतंकी व उनके प्रशिक्षक मारे गए। भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के माहौल में पाकिस्तानी विमान ने भी हमले के मकसद से भारतीय सीमा में प्रवेश किया था।

पाकिस्तानी विमानों द्वारा किये गए हमले को विफल करने के दौरान विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान अपने मिग 21 विमान से पाकिस्तान के एफ..16 विमानों का पीछा किया था और पाकिस्तान के एफ..16 विमान को मार गिराया था। इस दौरान उनका मिग 21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। वह अपने विमान से नीचे कूद गए थे और नियंत्रण रेखा की दूसरी ओर गिर गए थे। पाकिस्तान ने उन्हें हिरासत में ले लिया था। बाद में एक मार्च को अभिनंदन की सकुशल भारत वापसी हुई।

आज तक चैनल पर प्रसारित PAC सर्वे के मुताबिक, 10,428 लोगों से यह पूछा गया कि क्या उन्होंने एयर स्ट्राइक के बारे में सुना है? पाकिस्तान पर हुए हवाई हमले के बारे में सुना है? इसके जवाब में, “94 प्रतिशत ने ‘हां’, 3 प्रतिशत ने ‘नहीं’ और 3 प्रतिशत ने ‘पता नहीं’ कहा।” दूसरा सवाल पूछा गया, “हवाई हमले में जैश के आतंकी मारे गए या नहीं?” इसके जवाब में, “66 प्रतिशत लोगों ने ‘हां’, 8 प्रतिशत लोगों ने ‘नहीं’ और 26 प्रतिशत लोगों ने ‘पता नहीं’ कहा।” यूं कहें तो 34 प्रतिशत लोगों को आतंकियों के खात्मे पर शक है।

तीसरा सवाल ये पूछा गया, “पाक के जैश कैंपों पर हमले का श्रेय किसे देना चाहते हैं?” इसके जवाब में, “56 फीसद ने भाजपा, 4 फीसद ने विपक्ष, 7 फीसद ने भाजपा और विपक्ष दोनों, 4 फीसद ने कोई नहीं और 29 फीसद ने पता नहीं कहा।” चौथा सवाल से पूछा गया, “अभिनंदन को बंदी बनाने और रिहाई के बारे में सुना है?” इसके जवाब में, “89 फीसद ने हां, 6 फीसद ने नहीं और 5 फीसद ने पता नहीं” कहा। अगला सवाल पूछा गया, “अभिनंदन की रिहाई का श्रेय किसको मिलना चाहिए?” इसके जवाब में, “6 फीसद लोगों ने इमरान खान, 77 फीसद लोगों ने भारत सरकार (मोदी सरकार), 4 फीसद ने अन्य देश और 13 फीसद ने पता नहीं” कहा। 23% लोगों ने मोदी सरकार को  अभिनंदन की रिहाई का श्रेय नहीं दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App