ताज़ा खबर
 

सिर्फ वोटिंग के लिए न्यूयॉर्क से इंडिया आया यह शख्स, बोला- वोट नहीं करते तो सिस्टम खराब होने की शिकायत करने का भी हक नहीं

न्यू यॉर्क में मैनेजमेंट में काम करने वाले पणजी निवासी मतदान करने के लिए हर बार भारत आते हैं। वे 1999 से एक बार भी मतदान नहीं छोड़ा है।

प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

वह भारतीय हैं, लेकिन करीब 10 साल से न्यूयॉर्क में ही रह रहे हैं। हर साल इंडिया आना मुश्किल होता है, लेकिन जब भी चुनाव होता है तो देश का रुख जरूर करते हैं। वजह सिर्फ एक कि उनका मानना है, हर वोट कीमती होता है। यह किसी फिल्म की कहानी नहीं, बल्कि पणजी (गोवा) के मूल निवासी नवेंदु शिराली की सोच है। दरअसल, नवेंदु अमेरिका के न्यूयॉर्क में करीब 10 साल से जॉब कर रहे हैं, लेकिन भारत में जब भी चुनाव होते हैं तो वह यहां जरूर आते हैं और वोट डालते हैं।

1999 से लगातार दे रहे वोट : बता दें कि गोवा की पणजी लोकसभा सीट पर 23 अप्रैल को मतदान हुआ। इसके चलते नवेंदु इंडिया आ गए। उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘‘1999 में वह पहली बार वोट देने के लिए एलिजिबल हुए थे। उसके बाद से लगातार वोटिंग कर रहे हैं। उनका मानना है कि हर वोट जरूरी होता है। ऐसे में सभी को मतदान करना चाहिए।’’

वोटिंग के लिए मीटिंग तक छोड़ी : नवेंदु के मुताबिक, शुरुआत में उनकी नौकरी भारत में ही लगी थी। उस वक्त वे इनफोसिस में जॉब करते थे। कुछ समय बाद विदेश में जॉब का मौका मिला तो वह बेल्जियम चले गए। इसके बाद करीब 10 साल से न्यूयॉर्क में ही हैं। वे कहते हैं कि मैंने जॉब के लिए भारत जरूर छोड़ा, लेकिन देश के निर्माण के लिए अपने वोट से कभी समझौता नहीं किया। वोटिंग के लिए मैंने कई अहम मीटिंग तक छोड़ दीं।

लोग उड़ाते हैं मजाक, फिर भी निभाते हैं जिम्मेदारी : गौरतलब है कि देश में काफी लोग वोटिंग के दिन को छुट्टी के रूप में एंजॉय करते हैं, लेकिन नवेंदु इसे अपना मौलिक कर्तव्य मानते हैं। वह कहते हैं कि वोटिंग करना हमारा मौलिक कर्तव्य है। वहीं, अपने उम्मीदवार से सवाल पूछना भी हमारी ही जिम्मेदारी है। अगर हम ऐसा नहीं करते हैं तो व्यवस्था को कैसे बदल पाएंगे? नवेंदु बताते हैं कि अमेरिका में कुछ लोग वोटिंग के प्रति उनके पैशन का मजाक भी उड़ाते हैं, लेकिन वह अपनी जिम्मेदारी निभाने से कभी पीछे नहीं हटे। हालांकि, काफी लोग उनकी सराहना भी करते हैं।

 

National Hindi News, 23 April 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

राजनीति में टॉप टैलेंट की कमीः नवेंदु ने पणजी में लाइन में लगकर वोट डाला। उन्होंने कहा, ‘‘देश की राजनीति में टॉप टैलेंट की कमी है। देश की आबादी के टॉप टैलेंट कॉर्पोरेट में चले गए हैं। वहीं, बाकी ने सरकारी नौकरी का रुख कर लिया है। इसके बाद जो बचे, वे फैमिली बिजनेस में लगे हुए हैं। इस वक्त सबसे निचले स्तर वाले टैलेंट ही राजनीति में हैं और देश चला रहे हैं। उनसे ज्यादा बदलाव की उम्मीद नहीं की जा सकती है।’’ नवेंदु ने बताया कि जब वे गोवा में थे तो मनोहर पर्रिकर से भी सवाल-जवाब करते थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App