ताज़ा खबर
 

गुजरात एग्जिट पोल: बीजेपी की बड़ी हार की भविष्यवाणी करने वाले योगेंद्र यादव ने मानी हार

Gujarat Election Exit Poll 2017 Result, Gujarat Chunav Exit Poll 2017: चुनाव विश्लेषक से नेता बने योगेंद्र यादव ने गुजरात चुनाव को लेकर अपना अनुमान गलत मान लिया है।
योगेंद्र यादव (फाइल फोटो)

चुनाव विश्लेषक से नेता बने योगेंद्र यादव ने गुजरात चुनाव को लेकर अपना अनुमान गलत मान लिया है। उन्होंने 13 दिसंबर को कहा था कि गुजरात में बीजेपी की जीत संभव नहीं है, बल्कि बड़ी हार भी हो सकती है। उन्होंने एग्जिट पोल के नतीजे पर टिप्पणी करते हुए कहा कि मोटे तौर पर गुजरात में बीजेपी का वर्चस्व कायम है। बता दें कि 14 दिसंबर को आए सभी एग्जिट पोल में बीजेपी को गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीतता दिखाया गया। योगेंद्र यादव ने कहा कि उन्हें यह समझ नहीं आ रहा कि भाजपा के खिलाफ लोगों का गुस्सा वोट में तब्दील क्यों नहीं हो पाया। कांग्रेस के बारे में उन्होंने कहा कि गुजरात में बीजेपी के विरोध में कांग्रेस सड़क पर नहीं उतरी। उतरे तो हार्दिक पटेल, अल्पेश ठकोर जैसे नेता। उधार के नेताओं से लड़ाई नहीं जीती जा सकती।

यादव ने कहा कि मेरा अनुमान मन की बात पर आधारित नहीं था। यह दो सर्वेक्षणों पर आधारित था। लेकिन आज की तारीख में उन सर्वेक्षणों के नतीजे भी बदले हुए हैं। मैं उनका सम्मान करूंगा, उनसे सीखूंगा।

क्या आशंका जताई थी योगेंद्र यादव ने?
योगेंद्र यादव ने जो तीन मुमकिन परिणाम अपने हिसाब से बताएं थे। अगर उनकी बात की जाए तो तीनों ही नतीजों में बीजेपी को राज्य में हार मिल रही है।

Himachal Pradesh Election 2017 Exit Poll

बता दें कि एग्जिट पोल में गुजरात में पिछले दो दशकों से ज्यादा समय से सत्ता पर काबिज भाजपा की ही सरकार बनती दिख रही है। समाचार चैनल ‘आज तक’ पर प्रसारित ‘इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया पोल’ के मुताबिक, राज्य में मोदी मैजिक कायम है। इस एग्जिट पोल में भाजपा को 99 से 113 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है। ऐसे में गुजरात की सत्ता में भाजपा की ही वापसी होने जा रही है। पिछले 22 वर्षों से सत्ता से दूर कांग्रेस को 68 से 82 सीटें मिलने का अनुमान है। गुजरात विधानसभा में कुल 182 सीटें हैं। पहले चरण में 89 सीटों के लिए मतदान हुआ था। ‘आज तक’ के एग्जिट पोल के मुताबिक भाजपा को 48 और कांग्रेस को 40 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है। पहले चरण में भाजपा को 46 तो कांग्रेस को 43 फीसद वोट मिलने की बात कही गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Arvind
    Dec 15, 2017 at 10:15 am
    Ye bilkul sach hai ki Lalu yadav family, Mulayam Yadav family, Yogebder Yadav ne evm, hinduism, bjp, rss ka itna virodh kiya hai aur muslims, jat pat, congress, development etc ka itna samarthan kiya hai ki log inko foohad, ganwar, nalayak, maulana jaise visheshan dene par majboor ho gaye hain. Ye ab bhi yahi sochte hain ki janta bewkoof hai aur in bhrashtachariyon ki baato me aa jayegi. Bhai ab logo ka iq bahut accha ho gaya hai chahe wo yadav's ho ya koi aur, vo sirf aur sirf developement chahte hai aur jati pati se door sirf desh ke baare me sochte hain. Jus din koi aur new party bjp se acchhi or modi se acchha leader aa jayega tab sochenge..tab tak bjp aur congress, lalu, mulayam, mamta, maya to bilkul nahi.
    (2)(0)
    Reply
    1. U
      uday
      Dec 14, 2017 at 11:11 pm
      योगेन्द्र यादव हो या तेजस्वी यादव, लालू यादव हो मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव हो या तेज प्रताप यादव ये सारे यादव नेता मोदी के सामने सिर्फ नमूने बन कर रह गये । और वामपंथी तथा काँग्रेसी पत्रकारों की भी ऐसी ही हालात है ।
      (6)(19)
      Reply
      1. S
        SANJAY SHARMA
        Dec 15, 2017 at 6:55 am
        Correct. Desh ko dashko baad ek non corrupt deshbhakt nata mila hai.
        (3)(0)
        Reply
        1. S
          suresh
          Dec 15, 2017 at 11:06 am
          bhai ye sirf desh bhakti ka dikhava hein yahi BJP ne kashmir mein deshdrohi ka saath diya
          (0)(1)