ताज़ा खबर
 

Election Results 2019: मोदी लहर में नरम पड़े शिवसेना के सुर, बीजेपी को बताया बड़ा भाई, मोदी के लिए कहा- 25 साल तक कोई टक्कर देने वाला नहीं

Chunav Result 2019, Lok Sabha Election Results 2019: लोकसभा चुनाव में मोदी लहर के कारण मिली बड़ी जीत के बाद एनडीए के सहयोगी शिवसेना के सुर में नरमी दिख रही है। पार्टी के नेता संजय राउत ने कहा कि पीएम मोदी को अगले 25 साल में टक्कर देने वाला कोई नहीं है।

भाजपा-शिवसेना ने महाराष्ट्र में 48 में 41 सीटें जीती हैं। (फाइल फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

Election Results 2019: लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में प्रचंड बहुमत से एनडीए की सत्ता में वापसी का असर गठबंधन के साथी दलों पर दिखना शुरू हो गया है। भाजपा की प्रमुख सहयोगी शिवसेना के सुर पूरी तरह बदल गए हैं। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा और पीएम नरेंद्र मोदी की आलोचना करने वाली पार्टी ने पीएम मोदी की तारीफों के पुल बांधने शुरू कर दिए हैं।

Loksabha Election 2019 Results live updates: See constituency wise winners list 

पार्टी के नेता संजय राउत का कहना है कि राष्ट्रीय राजनीति में भाजपा ‘बड़े भाई’ के समान है। राउत ने कहा, ‘हमनें हमेशा राष्ट्रीय राजनीति में भाजपा को बड़े भाई का दर्जा दिया है। राष्ट्रीय स्तर पर ऐसा कोई नेता नहीं है जो पीएम नरेंद्र मोदी के बराबर हो। मुझे अगले 25 साल में उनके टक्कर का कोई नेता नहीं दिखाई दे रहा है।’

इस बार महाराष्ट्र में दोनों दलों ने मिलकर चुनाव लड़ा था। भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने राज्य की 48 में 41 सीटों पर जीत हासिल की। 48 साल के इतिहास में भाजपा दूसरी ऐसी पार्टी है जिसने पूर्ण बहुमत के बाद दुबारा 303 सीटों के साथ सत्ता में वापसी की है।

2014 में जीत के बाद शुरू हो गए थे मतभेदः 2014 में लोकसभा चुनाव साथ लड़ने के बाद शिवसेना-भाजपा में मतभेद शुरू हो गए थे। ये दोनों दल विधानसभा में सीटों के बंटवारे को लेकर मतभेद हो गए थे। स्थिति यह हुई कि दोनों दलों ने गठबंधन खत्म करने का ऐलान कर दिया। खंडित जनादेश के बाद विचारधारा की समानता के कारण दोनों दल फिर एक साथ आए और सरकार बनाई।

अलग-अलग लड़ा निकाय चुनावः इसके बाद 2017 में हुए निकाय चुनाव में दोनों दलों की राहें फिर से जुदा हो गईं। इस अलगाव के बाद भाजपा का प्रदर्शन बेहतरीन रहा। इसका फायदा पार्टी को बीएमसी की सत्ता पर कब्जे के रूप में मिला। चुनाव के बाद शिवसेना ने अपने 25 साल पुराने सहयोगी पर हमले तेज कर दिए। कई मौकों पर पार्टी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ करने के साथ भाजपा की आलोचना की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X