ताज़ा खबर
 

Raebareli: अमेठी के बाद हिला कांग्रेस का यह गढ़, अब तक के सबसे कम मार्जिन से जीतीं सोनिया गांधी

Lok Sabha Chunav/Election Results 2019: रायबरेली में सोनिया गांधी को इस बार सबसे कम अंतर से जीत हासिल हुई है। उनका मुकाबला बीजेपी के स्थानीय प्रत्याशी दिनेश प्रताप से था।

रायबरेली: सोनिया गांधी और दिनेश सिंह फोटो सोर्स- जनसत्ता

Election Results 2019: लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे आ चुके हैं। इस बार उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को पिछले चुनाव की तरह ही इस बार भी बड़ी हार का सामना करना पड़ा है। लेकिन इस चुनाव में उसे अपनी परम्परागत सीट अमेठी गवांनी पड़ गई। उत्तर प्रदेश में रायबरेली छोड़कर एकमात्र सीट पर सिमटने वाली कांग्रेस को यहां भी बमुश्किल जीत नसीब हुई। पिछले चुनावों में बड़े अंतर से जीतने वाली सोनिया गांधी इस बार 1,67099 मतों से ही जीत हासिल कर सकी। उनकी जीत अब तक की सबसे कम मार्जिन की जीत है। उन्हें बीजेपी के दिनेश प्रताप सिंह से कड़ी टक्कर मिली है।
Election Results 2019 LIVE Updates: यहां देखें नतीजे

क्या था इस बार जीत का अंतर: बता दें कि इस बार रायबरेली में सोनिया गांधी का मुकाबला उनके ही करीबी रहे दिनेश प्रताप सिंह से था। सोनिया को जहां इस बार कुल 534918 मत मिले तो दिनेश प्रताप को कुल 367740 वोट प्राप्त हुए। उन्हें 38 फीसदी से अधिक मत मिले। जबकि सोनिया को 55 फीसदी से अधिक मत प्राप्त हुए। गौरतलब है कि साल 2014 में सोनिया ने 3 लाख 52 हजार वोट से चुनाव जीता था। बता दें कि सपा-बसपा गठबंधन ने रायबरेली से कोई उम्मीदवार नहीं उतारा था।

कैसे कमजोर हुआ कांग्रेस का गढ़: बता दें कि रायबरेली सीट शुरुआत से कांग्रेस का गढ़ रही है। खुद सोनिया गांधी यहां से 2004 से सांसद हैं। बता दें कि साल 2014 के चुनाव में सोनिया गांधी ने बीजेपी प्रत्याशी अजय अग्रवाल को 3 लाख 52 हजार से अधिक वोटों से हराया था। इसके पहले 2009 के चुनाव में भी सोनिया ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बसपा प्रत्याशी आरएस कुशवाहा को 3 लाख 72 से भी अधिक मतों से हराया था। लेकिन 2019 के चुनाव सोनिया की जीत का अंतर डेढ़ लाख मतों तक ही रह गया। ऐसे में माना जा रहा है कि अब कांग्रेस का किला कमजोर होता जा रहा है। बीजेपी का दावा है कि अमेठी की तरह वह रायबरेली पर जीत हासिल करेगी।

क्यों है वीआईपी सीट: बता दें कि मौजूदा समय में रायबरेली लोकसभा सीट की सबसे बड़ी पहचान गांधी परिवार ही है। इस सीट पर पूर्व पीएम इंदिरा गांधी, उनके पति फिरोज गांधी जैसे दिग्गजों ने चुनाव लड़ा है। बता दें कि यहां 1957 से अबतक मात्र तीन बार लोकसभा चुनावों में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा है। सबसे चर्चित चुनाव 1977 का रहा, जब राज नारायण ने इंदिरा गांधी को हरा दिया था।

Follow live coverage on election result 2019. Check your constituency live result here.

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X