ताज़ा खबर
 

चुनाव आयोग की टीम ने मारा छापा तो एंबुलेंस में मिला भाजपा का चुनावी पर्चा, मुश्किल में रीता बहुगुणा जोशी

गाड़ी में प्रयागराज से भाजपा की लोकसभा प्रत्याशी रीता बहुगुणा जोशी के प्रचार से संबंधित सामग्री थीं। वहीं, दूसरी तरफ इस बार में बीजेपी की तरफ से इस बारे में कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है।

कौशांबी में बुधवार को चुनावी रैली में भाजपा उम्मीदवार रीता बहुगुणा का अभिवादन स्वीकार करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री और प्रयागराज से भाजपा की लोकसभा प्रत्याशी रीता बहुगुणा जोशी मुश्किल में फंस सकती हैं। रीता बहुगुणा चुनाव आयोग के रडार आ गई हैं। बीते कुछ दिनों से एक्शन में आए चुनाव आयोग की टीम ने एक एंबुलेंस से बीजेपी कैंडिडेट के चुनावी पर्चे बरामद किए हैं। टीम के छापे में यह सामग्री रायबरेली से बरामद हुई है। टीम के सदस्य ने बताया कि यह प्रचार सामग्री प्रयागराज भेजी जा रही थी।

चुनाव आयोग के फ्लाइंग स्कवायड के प्रभारी नीरज रंजन ने बताया कि, एंबुलेंस प्रयागराज जा रही थी। टीम रायबरेली के बछरावां कस्बे में चुनाव आयोग की टीम गाड़ियों की तलाशी ले रही थी। इसी दौरान एंबुलेंस को रोककर तलाशी ली गई तो अंदर का नजारा देख टीम भी सन्न रह गई। गाड़ी में प्रयागराज से भाजपा की लोकसभा प्रत्याशी रीता बहुगुणा जोशी के प्रचार से संबंधित सामग्री थीं। वहीं, दूसरी तरफ इस बार में बीजेपी की तरफ से इस बारे में कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है।

बता दें कि, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बीत दिन ही एक सरकारी रिपोर्ट सामने आई थी। जिसमें चुनावी खर्च का ब्यौरा सामने आया था। इसके अनुसार, इलाहाबाद और फूलपुर संसदीय क्षेत्र के भाजपा कैंडीडेट खर्च करने के मामले में सबसे चल रहे हैं। इलाहाबाद से भारतीय जनता पार्टी की कैंडीडेट रीता बहुगुणा जोशी अब तक 9 लाख 24 हजार 407 रुपए खर्च कर चुकी हैं। यह जानकारी प्रयागराज के कैंडीडेट्स ने बीते दिन यानी बुधवार को प्रेक्षक व्यय चौधरी सुनील भागवत को दी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पिता मुलायम के बारे में बोले अखिलेश- अच्छा होगा अगर नेताजी को पीएम पद का सम्मान मिलेगा, लेकिन…
2 राहुल ने जिसकी झोपड़ी में खाया था खाना, 10 साल बाद उसे पीएम आवास योजना में मिला घर
3 पहले से ही तय था कि प्रियंका गांधी वाराणसी से नहीं लड़ेंगी, हमने सिर्फ सस्पेंस में रखाः राहुल गांधी