ताज़ा खबर
 

Loksabha Elections 2019: EC ने एक और मामले में PM नरेंद्र मोदी को दी क्लीन चिट, अमित शाह को ‘हत्यारा’ बताने पर राहुल गांधी को भी राहत

Loksabha Elections 2019: चुनाव आयोग ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी बड़ी राहत दी है। आयोग ने अमित शाह को हत्यारा कहने के मामले में राहुल गांधी को राहत दी।

Narendra Modi, EC, Congress, BJP, violation of Model Code of Conduct, Model Code of Conduct, Wardha, PM Modi Speech, NDA, Modi Government, lok sabha, lok sabha election, lok sabha election 2019, lok sabha election 2019 schedule, lok sabha election date, lok sabha election 2019 date, लोकसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव 2019, chunav, lok sabha chunav, lok sabha chunav 2019 dates, lok sabha news, election 2019, election 2019 newsप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आचार संहित उल्लंघन मामले में चुनाव आयोग से राहत। (Photo: REUTERS)

Loksabha Elections 2019: चुनाव आयोग (ईसी) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आचार संहिता उल्लंघन के एक अन्य मामले में गुरुवार को क्लीन चिट दे दी। दरअसल, पीएम के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन को लेकर यह शिकायत कांग्रेस ने दी थी। आरोप था कि बीते महीने 21 तारीख को पीएम ने राजस्थान के बाड़मेर में एक जनसभा के दौरान चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन किया। आयोग ने इस पर पीएम को क्लीन चिट देते हुए कहा, किसी भी नियम का कोई उल्लंघन नहीं हुआ है। प्रधानमंत्री ने तब कहा था, “क्या परमाणु बम दिवाली के लिए हैं।”

ईसी ने इसके अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी बड़ी राहत दी है। आयोग ने अमित शाह को हत्यारा कहने के मामले में राहुल को राहत दी है। ईसी बोला है कि राहुल ने मध्य प्रदेश में एक चुनावी भाषण के दौरान आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया। बता दें कि गांधी ने चुनावी भाषण में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को ‘‘हत्या का आरोपी’’ बताया था।

ईसी अधिकारियों ने गांधी को क्लीनचिट देते हुए कहा, ‘‘शिकायत की विस्तृत जांच की गई और जबलपुर के जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा भेजे गए भाषण की पूरी प्रतिलिपि की जांच के बाद, आयोग का विचार है कि आदर्श आचार संहिता का कोई उल्लंघन नहीं किया गया है। राहुल गांधी ने 23 अप्रैल को मध्य प्रदेश के सिहोरा जिले में एक चुनावी रैली के दौरान यह कथित टिप्पणी की थी।

भाजपा अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए गांधी ने कथित तौर पर कहा था, ‘हत्या आरोपी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह। वाह, क्या शान है!’ भाजपा ने इस टिप्पणी के बारे में ईसी को शिकायत की थी। शाह ने इस टिप्पणी का कड़ा खंडन किया था और विपक्षी नेता के ‘कानूनी ज्ञान’ पर सवाल उठाये थे और कहा था कि इस ‘फर्जी’ आरोप को अदालत ने बहुत पहले ‘राजनीति से प्रेरित’ बताते हुए खारिज कर दिया था।

बाबर की औलाद’ वाले बयान पर CM योगी को नोटिस, 24 घंटे को देना होगा जवाब

बीते महीने बैन झेल चुके योगी आदित्यनाथ एक बार फिर आयोग के निशाने पर आ गए हैं। आयोग ने मुख्यमंत्री योगी को नोटिस जारी किया है। योगी आदित्यनाथ को उनके बाबर की औलाद वाले बयान पर नोटिस जारी किया गया है। यूपी के सीएम ने 19 अप्रैल को संभल में यह बयान दिया था। इसी पर आयोग ने उन्हें नोटिस जारी करते हुए 24 घंटे में जवाब देने को कहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 योगी आदित्यनाथ के रास्ते साध्वी प्रज्ञा, बैन लगने के बाद मंदिरों में करती फिरीं ‘मौन प्रचार’
2 Loksabha Elections 2019: प्रियंका गांधी वाड्रा को NCPCR का नोटिस, आयोग बोला- कांग्रेस महासचिव ने बच्चों से लगवाए अभद्र नारे
3 Lok Sabha Elections 2019: सनी देओल ने बताया कैसी थी पीएम मोदी से मुलाकात? क्यों ओढ़ी भगवा चादर
IPL 2020
X