ताज़ा खबर
 

Election Results 2019: करारी हार के बाद अब पार्टी में फूट! सीनियर कांग्रेस नेता ने आलाकमान को ठहराया जिम्मेदार, जॉइन कर सकते हैं बीजेपी

Chunav Result 2019, Lok Sabha Election Results 2019: चुनाव नतीजे आने के बाद कांग्रेसी नेता ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बताया कि महाराष्ट्र में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद कई नेता भाजपा या शिवसेना की तरफ जा सकते हैं।

कांग्रेस नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल। (file pic)

Election Results 2019: लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की करारी हार के बाद पार्टी में असंतोष के स्वर सनाई देने लगे हैं। पार्टी की करारी हार के बाद जहां कई पदाधिकारियों ने इस्तीफे की पेशकश की है, वहीं कई नेता पार्टी ही छोड़ने का मन बना रहे हैं। महाराष्ट्र में कांग्रेस के कद्दावर नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल भी ऐसे ही नेताओं में शुमार हैं, जो पार्टी आलाकमान से नाराज है और जल्द ही पार्टी छोड़ सकते हैं। आम चुनावों के नतीजे आने के बाद राधाकृष्ण विखे पाटिल ने भाजपा या शिवसेना में जाने के संकेत दिए हैं।

चुनाव नतीजे आने के बाद कांग्रेसी नेता ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बताया कि महाराष्ट्र में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद कई नेता भाजपा या शिवसेना की तरफ जा सकते हैं। पार्टी में संघर्ष की भावना की कमी और फंड की कमी हार का प्रमुख कारण रही। राधाकृष्ण विखे पाटिल ने कहा कि वह जल्द ही अपने समर्थकों के साथ बात करके भविष्य का फैसला करेंगे। कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस में नेतृत्व और संगठन के स्तर पर कायाकल्प की जरुरत है। टाइम्स नाऊ की एक खबर के अनुसार, राधाकृष्ण विखे पाटिल ने कहा कि कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के लिए पार्टी ही जिम्मेदार है।

पाटिल ने संकेत दिए कि वह शिवसेना या फिर भाजपा में से किसी भी पार्टी में जा सकते हैं। बता दें कि पाटिल के बेटा सुजय विखे पाटिल ने बीते दिनों ही भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी। भाजपा ने सुजय को अहमदनगर लोकसभा सीट से टिकट दिया, जहां सुजय ने 3 लाख से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की। ऐसी खबरें हैं कि सुजय ने अपने पिता को भी भाजपा में शामिल होने की अपील की है। ऐसे में माना जा रहा है कि अब लोकसभा चुनावों में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद पाटिल जल्द ही कांग्रेस छोड़ सकते हैं। गुरुवार को जब लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित हुए तो महाराष्ट्र में एनडीए ने 48 सीटों में से 41 सीटों पर कब्जा जमा लिया। वहीं देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस को सिर्फ एक सीट पर जीत मिली।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X