Digvijay Singh attacks MIM chief Asaduddin Owaisi of taking bribes from BJP - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दिग्विजय सिंह ने ओवैसी पर लगाया घूस लेने का आरोप, कहा- मुस्लिम वोट काटने के लिए 400 करोड़ रुपए में अमित शाह से की डील

दिग्विजय ने आरोप लगाया है कि एमआईएम, बीजेपी को फायदा पहुंचाने के लिए हर चुनाव में प्रत्याशी मैदान में उतारती है। उन्होंने मुसलमानों से अपील की है कि वह ओवैसी पर विश्वास न करें और कांग्रेस को समर्थन देने की अपील की है।

Author नई दिल्ली | February 20, 2017 10:35 AM
एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी। (FILE PHOTO)

यूपी चुनाव को लेकर जारी सरगर्मियों के बीच कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह ने बीजेपी और एमआईएम पर निशाना साधा है। दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि यूपी इलेक्शन में मुस्लिम वोटों के बिखराव के लिए एमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह से घूस ली है। सिंह ने कहा कि उन्हें जानकारी है कि बिहार चुनाव के दौरान औवेसी ने अमित शाह से सीक्रेट मीटिंग की थी और उन्हें 400 करोड़ रुपए मिले थे। ऐसा ही उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भी हुआ है।

दिग्विजय ने आरोप लगाया है कि एमआईएम, बीजेपी को फायदा पहुंचाने के लिए हर चुनाव में प्रत्याशी मैदान में उतारती है। उन्होंने मुसलमानों से अपील की है कि वह ओवैसी पर विश्वास न करें और कांग्रेस को समर्थन देने की अपील की है। दिग्विजय सिंह से पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने भी ओवैसी पर निशाना साधा था। उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी को भारतीय जनता पार्टी का एजेंट बताते हुये कहा था कि उन्हें मुसलमानों के कल्याण से कोई लेना देना नहीं है बल्कि वह भाजपा से पैसे लेकर मुस्लिम वोट काटते हैं। मुसलमानों के हक में बड़ी बड़ी बातें कर रहे ओवैसी ने हैदराबाद में मुसलमानों के लिए कुछ नहीं किया।

गौरतलब है कि एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अपनी पार्टी से उम्मीदवार चुनाव में उतारे हैं। हाल ही में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने अखिलेश यादव और पीएम नरेंद्र मोदी पर जोरदार निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि मोदी और अखिलेश एक सिक्के के दो पहलू है। एक तरफ जहां मोदी मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए गुजरात में दंगे नहीं रोक पाये थे वहीं दूसरी तरफ मुजफ्फरनगर के दंगों को अखिलेश नही रोक पाये, फिर दोनों में क्या फर्क बचा। अखिलेश यादव मुसलमानों को भाजपा से डराकर वोट हासिल करना चाहते हैं। यूपी चुनाव के तीन चरणों के मतदान संपन्न हो चुके हैं। पहले चरण में 63 फीसदी, दूसरे चरण में 65 फीसदी और रविवार को सम्पन्न हुए तीसरे चरण की वोटिंग में 61.16 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था।

वीडियो: शिवसेना ने पीएम मोदी पर साधा निशाना; कहा- “बाथरूम छाप राजनीति न करें”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App