ताज़ा खबर
 

दिल्ली नगर निगम चुनाव: कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी, जनता पर निगम कर का बोझ नहीं डालने का वादा

कांग्रेस ने नगर निगम में अलग से शहरी गरीबी उन्मूलन विभाग बनाने का भी चुनावी वादा किया हैै।

Author नई दिल्ली | April 18, 2017 4:28 AM
Delhi Election, Delhi Congress Manifesto, Delhi Election 2015Delhi Election: चुनावी घोषणापत्र जारी करते अजय माकन, पीसी चाको, अरविंदर सिंह लवली और अन्य कांग्रेस नेता मौजूद रहे। (तस्वीर-पीटीआई)

नगर निगम चुनाव की तैयारी को रफ्तार देते हुए कांग्रेस ने सोमवार को अपना पहला चुनावी घोषणापत्र जारी किया। कांग्रेस ने नगर निगम की सत्ता में आने पर जनता पर निगम कर का कोई बोझ नहीं डालने का वादा किया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने सोमवार को निगम चुनाव के लिए पार्टी का पहला घोषणापत्र जारी करते हुए कहा कि निगम की सत्ता में आने पर पार्टी निगम को आर्थिक रूप से मजूबत बनाने के लिए नए कर लगाए बिना 5200 करोड़ रुपए का अतिरिक्त राजस्व भी अर्जित करके दिखाएगी।

इतना ही नहीं कांग्रेस ने नगर निगम में अलग से शहरी गरीबी उन्मूलन विभाग बनाने का भी चुनावी वादा किया हैै। यह विभाग मजदूरों के हितों के लिए केंद्र और राज्य सरकार द्वारा बनाई गई राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा जैसी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मजदूरों को दिलाने के लिए उनका पंजीकरण करेगा। इनमें पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम द्वारा आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर एमसीडी, पूर्व पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश द्वारा गंदगी व बीमारी विहीन दिल्ली और पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद व शशि थरूर द्वारा विश्वस्तरीय प्राथमिक शिक्षा व चिकित्सा सुविधायुक्त दिल्ली बनाने का रोडमैप पेश किया गया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि पार्टी ने इस बार समग्र घोषणापत्र के बजाय दृष्टिपत्रों पर आधारित चार घोषणापत्र जारी करने का फैसला किया है। सोमवार को पहला घोषणापत्र जारी करने के बाद कांग्रेस मंगलवार को भवन कर सहित मूलभूत सुविधाओं से जुड़ी सहूलियतों का दूसरा घोषणा पत्र जारी करेगी, जबकि 19 अप्रैल को युवाओं खासकर छात्रों के हित में निगम के कार्यों का लेखा-जोखा पेश किया जाएगा और चौथे घोषणापत्र में शेष सभी समस्याओं के समाधान की समयबद्ध कार्ययोजना पेश की जाएगी।

दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिया जाए : नीतीश

दिल्ली को विशेष राज्य का दर्जा देने, अव्यवस्था समाप्त करने, अनधिकृत कॉलोनियों को पक्का करने और पूर्वांचल के लोगों को स्वाभिमान से जीने देने जैसी कई बातों को समेटते हुए बिहार के मुख्यमंत्री तथा जनता दल (एकी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार का पार्टी ने सोमवार को एक वीडियो संदेश जारी किया।  अपने संदेश में कुमार ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की वकालत करते हुए कहा कि दिल्ली में विधानसभा और सरकार भी है लेकिन उनके हाथ में ज्यादा ताकत नहीं दी गई है। हमारा नारा है कि बिहार को विशेष राज्य का तथा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिले। दिल्ली में व्याप्त अव्यवस्था पर कुमार ने कहा कि जब दिल्ली के अंदरूनी भागों पीने का साफ पानी नहीं मिलता है। नाले की व्यवस्था नहीं है। आवागमन में लोगों को दिक्कत है। सड़कें ठीक नहीं हंै। गलियां पक्की नहीं है। बिजली की व्यवस्था सही नहीं है। उन्होंने कहा कि यह सब देख मुझे आश्चर्य हुआ। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से स्मार्ट सिटी योजना की घोषणा की गई है, ऐसे में कम से कम दिल्ली को तो स्मार्ट बनाना चाहिए। अगर दिल्लीवासियों ने हमें ताकत दी तो हम इस अभियान को तेज करेंगे।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली नगर निगम: पुराने उम्मीदवारों को टिकट नहीं मिलने से मतदाता मायूस
2 दिल्ली नगर निगम चुनाव: लड्डुओं से तुल रहे उम्मीदवार, हो रही हैं नुक्कड़ बैठक
3 आप का अमित शाह को पत्र, लिखा- भाजपा ने निगम को बनाया भ्रष्टाचार का अड्डा
यह पढ़ा क्या?
X