ताज़ा खबर
 

Delhi Election 2020: आम आदमी पार्टी को मात देने के लिए भाजपा और कांग्रेस ने बनाई रणनीति, कही ये बातें

Delhi Election 2020: कांग्रेस ने हाल ही में ऐलान भी किया था कि दिल्ली में सरकार बनने के बाद पार्टी राष्ट्रीय राजधानी की ऊर्जा क्षमता बढ़ाने के लिए यहां पावर प्लांट स्थापित करेगी।

delhi election, delhi election 2020केजरीवाल सरकार ने बिजली, पानी को लेकर दिल्ली के लोगों को बड़ी राहत दे रखी है।

Delhi Election 2020: दिल्ली में चुनाव का ऐलान हो चुका है। इस ऐलान के साथ ही तीन बड़ी पार्टियों आम आदमी पार्टी (AAP), भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस ने कमर कस ली है। आम आदमी पार्टी की सरकार ने बिजली और पानी को लेकर दिल्ली वासियों को बड़ी सुविधा दी है। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने दिल्लीवासियों के लिए 200 यूनिट बिजली तथा 20,000 लीटर पानी मुफ्त कर दिया है। अब कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियां बिजली, पानी पर नई रणनीति बनाकर दिल्ली का दिल जीतने की कोशिश में जुटी हैं।

भाजपा ने बनाई यह रणनीति:
दिल्ली चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी अपने विजन डॉक्यूमेंट को अंतिम रूप देने में जुटी हुई है। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा है कि अगर दिल्ली में भाजपा की सरकार बनती है तो यहां प्रत्येक घर में 25,000 लीटर पानी मुफ्त दिया जाएगा। पार्टी का कहना है कि सरकार बनने के बाद वो बिजली-पानी पर मिल रही सब्सिडी नहीं बंद करेगी बल्कि और ज्यादा सब्सिडी दी जाएगी। पार्टी ने लोगों को घरों में अच्छी गुणवत्ता की पानी उपलब्ध कराने का वादा भी किया है।

इस विजन डॉक्यूमेंट में दिल्ली के अहम इलाकों में पानी, बिजली, शिक्षा, स्वास्थ्य और आधारभूत संरचना के विकास की बात कही गई है। इसके अलावा पार्टी ने केंद्र सरकार के आयुष्मान भारत स्कीम को भी राष्ट्रीय राजधानी में लॉन्च करने की बात कही है। यह वहीं स्कीम है जिसे दिल्ली की मौजूदा अरविंद केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में लागू करने से इनकार कर दिया है।

600 यूनिट मुफ्त बिजली देने की रणनीति:

वहीं आगामी चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी के मेनिफेस्टो पर बातचीत करते हुए दिल्ली कांग्रेस के प्रवक्ता मुकेश शर्मा ने साफ किया है कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो दिल्ली वासियों को सब्सिडी सीधे बैंक अकाउंट में दिया जाएगा। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस ने दिल्ली वासियों को 600 यूनिट तक बिजली मुफ्त देने का लक्ष्य तय किया है। कांग्रेस ने हाल ही में ऐलान भी किया था कि दिल्ली में सरकार बनने के बाद पार्टी राष्ट्रीय राजधानी की ऊर्जा क्षमता बढ़ाने के लिए यहां पावर प्लांट स्थापित करेगी। इसके अलावा छोटे व्यापारियों को भी 200 यूनिट पर सब्सिडी देने की बात कही गई थी।

Next Stories
1 Jharkhand Election Results Highlights: गठबंधन ने राज्यपाल के समक्ष पेश किया दावा, हेमंत सोरेन बोले- 50 MLA के समर्थन से बनाएंगे सरकार
2 झारखंड: जेपी नड्डा को पहले से था हार का अनुमान? रख लिया था दिल्ली से बाहर का प्रोग्राम
3 Jharkhand Election Results 2019: …तब शिबू सोरेन ने कहा था- मैं माओवाद‍ियों का समर्थक हूं…
आज का राशिफल
X