ताज़ा खबर
 

26 जवानों की शहादत के बाद गमगीन हैं दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी, नहीं मनाएंगे MCD चुनाव में जीत का जश्न

मनोज तिवारी ने कहा कि वे लोगों का शुक्रिया अदा करते हैं लेकिन बीजेपी कार्यकर्ताओं से अपील है कि वे ढोल नगाड़ों के साथ विजय का जश्न नहीं मनाएं।

भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी। PTI Photo

दिल्ली नगर निगम चुनाव में बंपर जीत हासिल करने वाली भारतीय जनता पार्टी इस जीत का जश्न नहीं मनाएगी। सुकमा में नक्सली हमले में 26 जवानों के शहीद होने के बाद बीजेपी ने ये फैसला किया है। दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस बात की घोषणा की। मनोज तिवारी ने आज (26 अप्रैल) कहा कि उन्हें दिल्ली में बीजेपी की जीत की खुशी तो है, इसके लिए वे दिल्ली की जनता का आभार भी व्य्क्त करते हैं, लेकिन वे जीत का जश्न नहीं मनाएंगे। मनोज तिवारी ने अंग्रेजी न्यूज़ चैनल इंडिया टुडे के साथ बातचीत में कहा कि छत्तीसगढ़ के सुकमा में 26 जवानों की शहादत का उन्हें गहरा दुख है। और देश में चल रहे आंतरिक युद्ध से वो व्यथित हैं इसलिए इस जीत का जश्न नहीं मनाएंगे। मनोज तिवारी ने कहा कि वे लोगों का शुक्रिया अदा करते हैं लेकिन बीजेपी कार्यकर्ताओं से अपील है कि वे ढोल नगाड़ों के साथ विजय का जश्न नहीं मनाएं।

मनोज तिवारी ने वादा किया कि इस जीत के बाद वो 4 महीने में दिल्ली की तस्वीर बदल देंगे। मनोज तिवारी ने कहा कि बीजेपी पार्षद पीएम नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत के अभियान को साकार करने के लिए बड़े पैमाने पर सफाई अभियान शुरू करेंगे। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस जीत का श्रेय पीएम नरेन्द्र मोदी को दिया और कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी ने जनता का विश्वास जीता है और इस विश्वास प्रचंड बहुमत में तब्दील हुआ है। मनोज तिवारी ने एमसीडी चुनाव के इन नतीजों को केजरीवाल सरकार को आईना दिखाने वाला बताया, और सीएम अरविन्द केजरीवाल से इस्तीफे की मांग की। मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली की जनता ने केजरीवाल सरकरा की कथित आंदोलनकारी और टकराव की नीतियों को खारिज कर दिया। मनोज तिवारी ने कहा कि आज से केजरीवाल और उनकी पार्टी के अंत की शुरूआत हो चुकी है।

छत्तीसगढ़: नक्सली हमले में 25 CRPF जवान शहीद, जवानों को न मिले मदद इसलिए रेडियो सेट्स ले गए थे नक्सली

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App