ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार की ‘आयुष्मान भारत योजना’ पर बरसे राहुल गांधी, बोले- नाकाम है योजना, बड़ी आबादी लाभ से वंचित

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार (15 मार्च) को छत्तीसगढ़ में कहा कि आयुष्मान भारत स्कीम लोगों के सिर्फ चंद मुद्दों को ही टारगेट करती है और हेल्थकेयर में एक बड़ी आबादी इसके लाभ से दूर रह जाती है।

राहुल गांधी ( फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस )

लोकसभा चुनाव के लिए हुई एक रैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बहुचर्चित स्कीम आयुष्मान भारत को जमकर आड़े हाथों लिया। उन्होंने स्कीम के कामकाज पर सवाल उठाते हुए स्कीम को निश्चित मुद्दों पर ही टारगेट करने का आरोप लगाया। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़े प्राइवेटों में से एक आयुष्मान भारत केन्द्र सरकार की हेल्थकेयर स्कीम है जिसमें हर गरीब व्यक्ति को 5 लाख रुपए का सालाना कवर दिया जाता है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार (15 मार्च) को छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आयुष्मान भारत स्कीम पर सवाल उठाए। इस दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल समेत राज्य के अन्य नेता भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि यह स्कीम लोगों के सिर्फ चंद मुद्दों को ही टारगेट करती है और हेल्थकेयर में एक बड़ी आबादी इसके लाभ से दूर रह जाती है। वहीं इस स्कीम से उन्होंने देश के कुछ गिने-चुने 15 से 20 उद्योगपतियों को सीधा फायदा पहुंचाने की बात भी कही। राहुल ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार की तरफ से चलाई जा रही यूनिवर्सल हेल्थकेयर योजना का उदाहरण देते हुए पूरे देश में ऐसी ही योजना चलाने की भी बात कही।

 

हेल्थकेयर केवल पब्लिक सेक्टर परः राहुल गांधी ने कहा कि हेल्थकेयर और शिक्षा के क्षेत्र में प्राइवेट नहीं बल्कि पब्लिक सेक्टर होना चाहिए। उन्होंने प्राइवेट सेक्टर के विरोध करने की बात से नकारते हुए पब्लिक सेक्टर को बढ़ावा दिए जाने पर जोर देने को कहा। उन्होंने पार्टी के लोकसभा चुनाव के घोषणा पत्र में राइट टू हेल्थकेयर एक्ट लाने पर विचार करने की बात भी कही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App