ताज़ा खबर
 

यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी को खून से लिखा खत, कहा- इस्तीफा न दें, साथ में किया यह वादा

Lok Sabha Election/Chunav Results 2019: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे खबर से दुखी कार्यकर्ताओं ने उनसे दिन-रात मेहनत कर पार्टी को फिर से खड़ा करने का वादा किया है। जौनपुर के कार्यकर्ताओं ने उन्हें खून से खत भी लिखा है।

rahul-gandhi7591कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, (Express File Photo by Tashi Tobgyal)

Lok Sabha Election Results 2019 में लगे करारे झटके के बाद विपक्ष के अधिकांश दलों में नेताओं की तरफ से इस्तीफे सौंपे जाने और बागियों की तरफ से इस्तीफे मांगने का सिलसिला जारी है। कांग्रेस इस चुनाव में 44 से बढ़कर 52 तक पहुंची लेकिन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी अपने गढ़ अमेठी को भी नहीं बचा पाए। हार से दुखी राहुल गांधी ने कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा सौंपा था, लेकिन एक सुर में सभी वरिष्ठ नेताओं ने इसे खारिज कर दिया। इसी बीच कुछ समर्थकों की तरफ से उन्हें मनाने के लिए खून से खत लिखे जाने का मामला भी सामने आया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक राहुल गांधी इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं और उन्हें मनाने के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के उनसे मुलाकात करने का सिलसिला बरकरार है। राहुल ने मंगलवार (28 मई) को राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मुलाकात की थी। इसके बाद उनके अशोक गहलोत से भी मिलने का कार्यक्रम है।

National Hindi News, 28 May 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

Sanjay Nirupam खून से लिखे खत पर संजय निरूपम की प्रतिक्रिया

कार्यकर्ताओं का राहुल से वादाः राहुल को मनाने के लिए पूजा-पाठ और यज्ञ-हवन तक होने लगे हैं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश के जौनपुर से यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उन्हें खून से खत लिखा और उनसे इस्तीफा न देने की गुजारिश की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कार्यकर्ताओं का कहना है कि वे राहुल गांधी के इस्तीफे की बात सुनकर दुखी हैं। कार्यकर्ताओं ने राहुल से घर-घर जाकर, दिन-रात मेहनत से पार्टी को फिर खड़ा करने का वादा किया है।

लगी इस्तीफों की झड़ीः कांग्रेस की करारी हार के चलते पार्टी के कई प्रदेशों के अध्यक्षों समेत करीब 13 वरिष्ठ नेताओं ने अपने पद से इस्तीफे की पेशकश की है। इनमें पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ भी शामिल हैं। गौरतलब है कि पंजाब में कांग्रेस 13 में से 8 सीटें जीती हैं। हालांकि पंजाब सीएम अमरिंदर सिंह ने उनके इस्तीफे को गैरजरूरी बताते हुए कहा कि पंजाब में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन किया है। बता दें कि जाखड़ अपनी ही सीट पर सनी देओल से हार गए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: शपथ-ग्रहण से पहले नरेंद्र मोदी और अमित शाह की मुलाकात, इस चीज पर हुआ ‘मंथन’
2 Election Results 2019: बीजेपी जिलाध्यक्ष को वरुण गांधी ने मंच पर हड़काया- अपना फोन बंद कर लीजिए
3 Election Results 2019: शिवसेना ने सामना से राहुल गांधी पर साधा निशाना, कहा- लोगों को आकर्षित नहीं करता उनका व्यक्तित्व