ताज़ा खबर
 

नाराज कांग्रेसी ने कहा- दिग्विजय रथ यात्रा मैं निकालूं और टिकट आप गोली-बिस्कुट की तरह बांट दें

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को कांग्रेसी नेता महेंद्र वर्मा ने विदिशा से विधानसभा चुनाव में टिकट ना मिलने के कारण सबके सामने खरी-खोटी सुनाई और टिकट वितरण के मुद्दे पर आक्रोश व्यक्त किया।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह। (फाइल फोटो)

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों के मद्देनजर राजनीतिक दलों में टिकट को लेकर कई दिग्गजों को निराशा हाथ लगी है। टिकट ना मिल पाने की दशा में सियासी समर में चुनाव लड़ने का उनका सपना भी अब टूटता नजर आ रहा है। चुनावों में टिकट पाने से वंचित रहे नेताओं की भड़ास अब निकल रही है। एमपी में कांग्रेस के दिग्गज नेता और समन्वय समिति के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह को टिकट कटने से नाराज दावेदारों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। विदिशा से नेता महेंद्र वर्मा ने विधानसभा चुनाव में टिकट ना मिलने के कारण सबके सामने दिग्विजय सिंह को खरी-खोटी सुनाई और टिकट वितरण के मुद्दे पर आक्रोश व्यक्त किया।

ये पूरा मामला एमपी की विदिशा विधानसभा सीट का है। विदिशा जिले में तीन विधानसभा सीटें आती है, विदिशा, सिरोंज और कुरवाई। गौरतलब है कि इन तीनों विधानसभा में टिकट वितरण के बाद से आक्रोश पनप रहा है। विदिशा विधानसभा सीट से कांग्रेस पार्टी के घोषित प्रत्याशी शशांक भार्गव के खिलाफ स्थानीय नेता और कांग्रेस के पूर्व पार्षद महेंद्र वर्मा ने समर्थकों के साथ दिग्विजय सिंह से शिकायत की। महेंद्र वर्मा ने दिग्विजय सिंह के सामने भड़ास निकालते हुए कहा कि, ये कैसा सिस्टम है, गोली और बिस्कुट की तरह टिकट बाँट दिया। उन्होंने कहा कि, दिग्विजय के दरबार के अलावा मैंने किसी से टिकट नहीं मांगा लेकिन आपने मुझे निराश किया, मेरे साथ अन्याय किया।

कांग्रेस के नेता महेंद्र वर्मा ने एमपी कांग्रेस प्रभारी दीपक बावरिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि विदिशा विधानसभा और सिरोंज विधानसभा सीट का टिकट बेंचा गया है। बता दें कि कांग्रेस पार्टी की ओर से विदिशा से शशांक भार्गव, सिरोंज से अशोक त्यागी और कुरवाई से सुभाष बोहत को उम्मीदवार बनाया गया है। विदिशा से शशांक भार्गव के बारे में कांग्रेसी नेता महेंद्र वर्मा ने कहा कि बार-बार हराने वाले कैंडिडेट को टिकट दिया जा रहा है। इस घटना के बाद चुनावी मौसम में राजनैतिक दलों के अंदर एकजुटता का दिखावा फिर से खुल के सामने आ गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App