ताज़ा खबर
 

चुनाव से ऐन पहले अगस्ता वेस्टलैंड केस से जुड़ा अहमद पटेल और फैमिली का नाम, ईडी की चार्जशीट में खुलासा

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): सूत्रों के हवाले से बताया गया कि अगस्ता मामले में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के खिलाफ चार्जशीट दाखिल हुई है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः रोहित जैन)

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव से ऐन पहले कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। वजह- अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाला मामला है। गुरुवार (चार अप्रैल, 2019) को इस केस में नया खुलासा हुआ, जिसमें पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का नाम सामने आ गया है। उनके अलावा ‘फैमिली’ नाम भी घोटाले से जुड़ा है, जो कि पहले फैम (FAM) बताया जा रहा था।

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया कि अगस्ता मामले में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के खिलाफ चार्जशीट दाखिल हुई है। चार्जशीट में ईडी के आधार पर कहा गया, “मिशेल से पूछा गया ‘एपी’ (AP) और ‘एफएएम’ (FAM) का मतलब क्या है? उसने क्रमशः जवाब दिया- अहमद पटेल और फैमिली बताया।”

ईडी ने चार्जशीट में इस बात का जिक्र भी किया कि मिशेल की एक चिट्ठी के मुताबिक, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर उन्हीं की पार्टी के नेताओं ने दबाव बनाया था। मिशेल ने बताया कि भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के अधिकारियों और नौकरशाहों के साथ राजनीतिक शख्सियतों को बड़े स्तर पर रिश्तव दी गई। यह रकम 30 मिलियन यूरो के आसपास बताई गई।

इससे पहले, इटली में भारतीय एजेंसी गई थी, तो डायरी मिली थी। उसमें जिक्र था कि किसे कितने पैसे मिले थे…। उसमें एपी, जो कि एक राजनीतिक हैं और फैमः एक राजनीतिक परिवार का नाम था।

खबरों के अनुसार, मामले में अन्य आरोपी सुशेन गुप्ता ने बताया कि ‘आरजी’ ने 2004 से 2016 के बीच 50 करोड़ रुपए की रिश्वत ली थी। आरोप है कि गुप्ता ने ‘आरजी’ के घूस लेने की बात को मानी, मगर यह नहीं साफ किया कि आखिर ‘आरजी’ है कौन? उसने उस का पूरा नाम या फिर अन्य जानकारी नहीं दी।

हालांकि, ईडी यह भी बोला कि गुप्ता जान कर मामले की जांच भटकाने का प्रयास कर रहा है। वह हमें गलत जानकारी दे रहा है, जबकि मिशेल भी पूर्व में ‘मिसेज गांधी’ का जिक्र कर चुका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App