ताज़ा खबर
 

फिर फंस गए गुरु! कांग्रेस हाईकमान ने मांगी सिद्धू के बयानों की वीडियो क्लिप

पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक राणा गुरजीत का कहना है कि नवजोत सिंह सिद्धू के बयान से कांग्रेस पार्टी को भारी नुकसान हुआ है। चुनाव से ठीक एक दिन पहले दिया गए इस बयान ने पार्टी नेताओं की कड़ी मेहनत पर पानी फेर दिया।

नवजोत सिंह सिद्धू। (फाइल इमेज)

कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू हाल के अपने बयानों में कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ काफी मुखर रहे हैं। जिसके प्रति कांग्रेस पार्टी में भी नाराजगी का माहौल है। अब खबर आयी है कि कांग्रेस आलाकमान ने नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के बयानों की वीडियो क्लिप मांगी है। हालांकि अभी इस मुद्दे पर पंजाब कांग्रेस के नेता कुछ नहीं बोल रहे हैं, लेकिन उन्होंने इस बात को स्वीकार किया है कि कांग्रेस आलाकमान की तरफ से सिद्धू के बयानों पर रिपोर्ट मांगी गई है। न्यूज 18 की एक खबर के अनुसार, यह रिपोर्ट पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ की ओर से दी जाएगी जो कि फिलहाल दिल्ली में ही मौजूद हैं।

कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ अपने मतभेद पर सार्वजनिक रुप से बयान देने पर पंजाब कांग्रेस के विधायक भी नाराज हैं। पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक राणा गुरजीत का कहना है कि नवजोत सिंह सिद्धू के बयान से कांग्रेस पार्टी को भारी नुकसान हुआ है। चुनाव से ठीक एक दिन पहले दिया गए इस बयान ने पार्टी नेताओं की कड़ी मेहनत पर पानी फेर दिया। कांग्रेसी विधायक ने कहा कि सिद्धू को बंद कमरे में कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ बातचीत करनी चाहिए थी ना कि मीडिया और सार्वजनिक मंच पर बयान देकर पार्टी का नुकसान करना चाहिए था।

बता दें कि हाल ही में नवजोत सिंह सिद्धू ने बठिंडा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अपनी सरकार को ही कटघरे में खड़ा कर दिया। दरअसल सिद्धू ने साल 2015 में धर्मग्रन्थ के अपमान की घटनाओं में पुलिस फायरिंग के मामले में प्रकाश सिंह बादल और सुखबीर सिंह बादल के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं करने पर नाराजगी जाहिर की थी। इसके बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने एक बयान में कहा था कि नवजोत सिंह सिद्धू महत्वकांक्षी हैं और वह उनकी जगह सीएम बनना चाहते हैं। अमरिंदर सिंह ने सिद्धू के बयान से लोकसभा चुनावों में पार्टी को नुकसान होने की बात कही थी।

इस पूरे घटनाक्रम पर अकाली दल ने चुटकी ली है। अकाली दल का कहना है कि राहुल गांधी ने इस पूरे मामले पर चुप्पी साध रखी है, उससे लगता है कि कांग्रेस अध्यक्ष की शह पर नवजोत सिंह सिद्धू इस तरह के बयान दे रहे हैं, ताकि कैप्टन अमरिंदर सिंह को उनके पद से हटाया जा सके।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बीएस येदियुरप्पा का दावा, 23 मई के बाद बीजेपी में शामिल होंगे 20-22 कांग्रेस नेता
2 Jharkhand में मिला EVM के खाली बक्सों से भरा ट्रक, विरोधी दलों ने जमकर किया हंगामा
3 पीएम की रैली में हिस्सा नहीं लेने वाले विधायकों पर गिरेगी बीजेपी की गाज