ताज़ा खबर
 

कांग्रेस की नई लिस्ट से बढ़ सकती है बीजेपी की मुश्किल, अनुप्रिया पटेल की मां और फूलन देवी के पति का नाम

कांग्रेस ने चंदौली से शिवकन्या कुशवाहा को टिकट दिया है। शिवकन्या कुशवाहा, कभा मायावती के करीबी रहे बाबू सिंह कुशवाहा की पत्नी हैं। गाजीपुर से अजय प्रताप कुशवाहा को टिकट दिया गया है।

Author Updated: April 14, 2019 10:05 AM
डिबेट के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता अभय दुबे सर्जिकल स्ट्राइक पर पक्ष रखने पहुंचे थे।

कांग्रेस ने शनिवार को अपने 18 उम्मीदवारों की एक नई लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट के मुताबिक कांग्रेस ने यूपी में 9, हरियाणा में 6 और मध्य प्रदेश में 3 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया है। उत्तर प्रदेश की बात करें तो कांग्रेस द्वारा जिन उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया गया है, वो भाजपा को पूर्वांचल में खासा नुकसान पहुंचा सकते हैं। बता दें कि पूर्वांचल में ओबीसी वर्ग खासकर कुशवाहा और निषाद का अच्छा-खासा जनाधार है। अब कांग्रेस ने जो लिस्ट जारी की है, उसके मुताबिक पार्टी ने गोंडा से भाजपा सरकार की केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल को अपना उम्मीदवार बनाया है। कृष्णा पटेल की पार्टी अपना दल (कृष्णा पटेल) ने आगामी चुनावों के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन किया है। वहीं अंबेडकर नगर से पूर्व दस्यु सुंदरी फुलन देवी के पति उम्मेद सिंह निषाद को उम्मीदवार बनाया गया है।

उल्लेखनीय है कि साल 2014 के लोकसभा चुनावों में भाजपा ओबीसी मतदाताओं को अपने साथ जोड़ने में सफल रही थी। जिसका पूर्वी उत्तर प्रदेश में भाजपा को पूरा फायदा मिला था। अब कांग्रेस की ताजा लिस्ट में पार्टी ने यूपी में दो कुशवाहा समुदाय, एक कुर्मी और एक निषाद समुदाय के नेता को अपना उम्मीदवार बनाया है। जिससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि इससे भाजपा उम्मीदवारों की वोट कटने का खतरा पैदा हो गया है। कांग्रेस ने चंदौली से शिवकन्या कुशवाहा को टिकट दिया है। शिवकन्या कुशवाहा, कभा मायावती के करीबी रहे बाबू सिंह कुशवाहा की पत्नी हैं। गाजीपुर से अजय प्रताप कुशवाहा को टिकट दिया गया है।

पूर्व सांसद रमाकांत यादव को कांग्रेस ने भदोही सीट से उम्मीदवार बनाया है। रमाकांत यादव 2014 का चुनाव आजमगढ़ से भाजपा के टिकट पर लड़े थे। इस बार वह कांग्रेस के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं। वाराणसी के पूर्व सांसद राजेश मिश्रा को इस बार सलेमपुर से टिकट दिया गया है। इसके बाद चर्चाओं का बाजार फिर से गरम हो गया है कि प्रियंका गांधी वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव मैदान में उतर सकती हैं। बस्ती से राजकिशोर सिंह, मोहनलाल गंज से आरके चौधरी और जौनपुर से देवव्रत मिश्रा को टिकट दिया गया है।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर से चर्चाएं थीं कि इस बार ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी प्रियदर्शिनी सिंधिया को टिकट दिया जा सकता है। लेकिन घोषित की गई लिस्ट के मुताबिक यहां से पार्टी ने अशोक सिंह को टिकट दिया है। भिंड सीट से देवाशीष जरारिया को टिकट मिला है। देवाशीष इससे पहले बसपा में थे और बीते विधानसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस में शामिल हुए थे। धार सीट से दिनेश गिरवाल को उम्मीदवार बनाया गया है। हरियाणा में सिरसा से अशोक तंवर, अंबाला से कुमारी शैलजा, रोहतक से दीपेन्द्र हुड्डा, गुरुग्राम से कैप्टन अजय सिंह यादव और फरीदाबाद से ललित नागर को टिकट दिया गया है।

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: उद्धव ठाकरे का बयान- राहुल, हिंदुस्तान नामर्दों का देश नहीं
2 वीडियो पोस्ट कर कांग्रेस ने लगाया आरोप- मोदी के हेलिकॉप्टर से उतरे बक्से में क्या, जांच करे चुनाव आयोग
3 BJP नेता नरेश अग्रवाल के बोले- अखिलेश चौराहों पर बंदरों की तरह घूमेगा, मायावती पर दिया ये बयान
ये पढ़ा क्या?
X