ताज़ा खबर
 

Chhattisgarh Election Result 2018: रुझानों पर शिवसेना का बीजेपी पर तंज, कहा- आत्म मंथन का है समय

Chhattisgarh Vidhan Sabha Election Result 2018, Chhattisgarh Chunav Result 2018: पांच राज्यों से मतगणना के दौरान आ रहे रुझानों को लेकर शिवसेना ने भाजपा को आत्म मंथन की सलाह दी है। इसके साथ ही रुझानों पर अखिलेश यादव, उपेंद्र कुशवाहा और चंद्रबाबू नायडू जैसे नेताओं ने भी बीजेपी पर तंज कसा है।

Chhattisgarh Vidhan Sabha Election Result 2018: भाजपा का झंडा, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के परिणाम लगातार आ रहे है। रुझानों के अनुसार छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस सरकार बनाने में कामयाब होगी जबकि मध्यप्रदेश में कांटे की लड़ाई देखने को मिल रही है। कांग्रेस ने तो अभी से आतिशबाजी शुरू कर दी है। रुझानों को लेकर शिवसेना ने भाजपा को आत्म मंथन की सलाह दी है।

रुझानों को देखते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि नतीजे को देखकर इसे कांग्रेस की जीत नहीं कहा जा सकता है। उन्होंने नतीजों को जनता का गुस्सा बताया। उन्होंने कहा ये नतीजे भाजपा और शिवसेना के लिए आत्म मंथन का समय है। भाषा एजेंसी के मुताबिक, संसद भवन परिसर में राउत ने संवाददाताओं से कहा, ”यह स्पष्ट संदेश है और यह हमारे लिए आत्मावलोकन करने का समय है। इसके अलावा कई राजनीतिक दलों के नेता प्रतिक्रिया दे रहे हैं।
Election Result 2018 LIVE: Rajasthan | Telangana | Mizoram | Madhya Pradesh | Chhattisgarh Election Result 2018

अखिलेश यादव- इन रुझानों को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, ‘जब एक और एक मिलकर बनते हैं ग्यारह, तब बड़े-बड़ों की सत्ता हो जाती है नौ दो ग्यारह’

उपेंद्र कुशवाहा- हाल ही में भाजपा से अलग हुए उपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट किया, “लोकतंत्र में हमेशा जनहित की ही जीत होती है। जुमलेबाजी की पोल एक दिन खुल ही जाती है। जीत के लिए राहुल गांधी जी को बहुत-बहुत बधाई।”

चंद्रबाबू नायडू- आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा, ‘लोग जान गए कि बीजेपी ने पिछले पांच वर्षों में कुछ भी नहीं किया इसी वजह से विकल्प की ओर जनता आगे बढ़ गई। लोग बीजेपी के खिलाफ लड़ाई में हमारे साथ हैं। पांच राज्यों के नतीजे बीजेपी के खिलाफ विकल्प में मददगार साबित होंगे।’

गौरतलब है कि महाराष्ट्र और केन्द्र में भाजपा नेतृत्व वाले गठबंधन का हिस्सा होने के बावजूद शिवसेना के रिश्ते भाजपा के साथ अच्छे नहीं रहे हैं। दोनों पार्टियों ने वर्ष 2014 में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव अलग-अलग लड़ा था लेकिन सरकार बनाने के लिए बाद में दोनों साथ आ गए थे। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में आए अब तक के रुझानों में कांग्रेस सरकार बनाते हुए नजर आ रही है जबकि तेलंगाना में टीआरएस ने क्लीन स्वीप किया है। अगर बात मिजोरम की जाए तो यहां कांग्रेस के हाथ से मुकाबला निकल चुका है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Election Result 2018: ‘मोदी ने पूछा- अब क्या करें? योगी बोले- कांग्रेस का नाम बीजेपी कर दें’, चुनाव नतीजों पर वायरल हो रहे फनी मीम्स
2 बीजेपी के सांसद संजय ककडे ने कहा- पता था, राजस्‍थान और छत्‍तीसगढ़ में हारेंगे
3 MP Election Result 2018: 2019 में बीजेपी के लिए खतरा? इन मजबूत किलों में कांग्रेस ने लगाई सेंध
ये पढ़ा क्या?
X