ताज़ा खबर
 

मतदान शुरू होने से पहले ही खोल दी ईवीएम की सील! चुनावकर्मियों पर हुआ ऐक्शन

अधिकारियों ने कार्रवाई करते हुए पूरी पोलिंग पार्टी को बदल दिया है। वहीं दोषी मतदानकर्मियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

मतदानकर्मियों पर आरोप है कि उन्होंने चुनाव से पहले ही ईवीएम की सील तोड़ डाली। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में पोलिंग पार्टी द्वारा बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। दरअसल बिलासपुर के घुमारवीं उपमंडल के तहत आने वाले भगेड़ मतदान केन्द्र पर तैनात पोलिंग पार्टी ने शनिवार को ही ईवीएम की सील तोड़कर उसका ट्रायल शुरु कर दिया। इसे चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन माना गया है। जिसके बाद अधिकारियों ने कार्रवाई करते हुए पूरी पोलिंग पार्टी को बदल दिया है। वहीं दोषी मतदानकर्मियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। दैनिक जागरण की एक खबर के अनुसार, एसडीएम घुमारवीं शशिपाल शर्मा ने भी इस खबर की पुष्टि की है।

शशिपाल शर्मा ने बताया कि इस संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी और जिलाधिकारी को सूचना दे दी गई है। एसडीएम ने बताया कि भगेड़ मतदान केन्द्र पर पहुंची मतदानकर्मियों की टीम ने शनिवार को ही ईवीएम की सील तोड़कर उसकी टेस्टिंग शुरु कर दी थी। गौरतलब है कि चुनाव पर जाने वाली टीम को चुनावों से पहले प्रशिक्षित किया जाता है और चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों से उन्हें वाकिफ कराया जाता है। इसके बावजूद मतदानकर्मियों की टीम द्वारा इतनी बड़ी लापरवाही सामने आयी है। बता दें कि बीती 18 अप्रैल को हुए मतदान के दौरान भी आगरा लोकसभा क्षेत्र में मतदानकर्मियों की लापरवाही के चलते तो वहां पर मतदान ही रद्द करना पड़ा था। दरअसल आगरा के बूथ नंबर 466 पर मतदानकर्मियों ने मतदान के दौरान एक ईवीएम में गड़बड़ी आने पर उसे स्ट्रॉन्ग रुम में जमा कराने के बजाय गोदाम में जमा करा दिया गया था। जिसे चुनाव आयोग ने बड़ी लापरवाही मानते हुए वहां पर 6 मई को फिर से मतदान कराया था।

चुनाव आयोग ने ईवीएम जमा करने वाले अमीन सुनील चौहान को निलंबित कर दिया था। इसके अलावा आगरा के पोलिंग बूथ के एआरओ। एसीएम प्रथम विनोद जोशी को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया था। रविवार को लोकसभा के सातवें चरण का मतदान हो रहा है। इस दौरान देश के 8 राज्यों की 59 लोकसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे। 23 मई को चुनाव के नतीजों का ऐलान किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X