ताज़ा खबर
 

‘सिसोदिया, जैन के खिलाफ सीबीआई जांच से साबित होता है पार्टी पंजाब-गोवा में जीत रही है’

सीबीआई ने उप मुख्यमंत्री सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री जैन की पुत्री सौम्या के खिलाफ दो अलग अलग मामलों में प्रारंभिक जांच दर्ज की थी।

Author नई दिल्ली | January 19, 2017 6:52 PM
Manish Sisodia news, CBI Manish Sisodia, Manish Sisodia latest news, CBI Satyendar Jain, Satyendar Jain news, Satyendar Jain latest News, Goa Assembly polls 2017, Punjab Assembly Polls 2017सीबीआई ऑफिस।

आप ने गुरुवार (19 जनवरी) को कहा कि मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन की पुत्री के खिलाफ ‘परेशान’ भाजपा सरकार द्वारा सीबीआई जांच इस बात का ‘स्पष्ट संकेत’ है कि आप पंजाब और गोवा में आगामी विधानसभा चुनाव में जीत रही है। आप के दिल्ली संयोजक दिलीप पांडेय ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सीबीआई कार्रवाई साथ ही आप की ‘आसन्न चुनावी सफलता’ को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘भय’ दिखाती है। पांडेय ने इसे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इस बयान से जोड़ने का प्रयास किया कि वह 15 अप्रैल से पहले पंजाब के मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया को जेल भेजेंगे। ‘चाहे जो हो, मजीठिया को जेल की सलाखों के पीछे डाला जाएगा।’ उन्होंने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल द्वारा मजीठिया को जेल भेजने का वादा करने के बाद हम भी सोच रहे थे कि मोदीजी चुप क्यों हैं। लेकिन अब सीबीआई को सक्रिय करके पीछे लगा दिया गया है। मोदीजी की कायराना हरकत ने किसी ओपिनियन पोल से कहीं बेहतर तरीके से यह स्पष्ट किया है कि आप पंजाब और गोवा में जीत दर्ज करेगी।’

बुधवार (18 जनवरी) को सीबीआई ने उप मुख्यमंत्री सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री जैन की पुत्री सौम्या के खिलाफ दो अलग अलग मामलों में प्रारंभिक जांच दर्ज की थी। आप ने अपने इस दावे पर जोर देने के लिए कि पार्टी विधायकों को फंसाया जा रहा है, तिलक नगर से अपने विधायक जरनैल सिंह को भी मैदान में उतार दिया है जिसे सत्र अदालत ने गत महीने ‘बरी’ कर दिया था। सिंह ने कहा, ‘गुजरात मॉडल को यहां गत तीन वर्षों से लागू किया जा रहा है। यद्यपि अदालत ने एक बार फिर साबित किया है कि किस तरह से आप विधायकों को लगातार झूठे आरोपों में निशाना बनाया जा रहा है।’ सिंह पर एक लोकसेवक को ड्यूटी में बाधा डालने का आरोप था। एक निचली अदालत ने मामले में उनके खिलाफ आरोप तय किये थे। विधायक पर एमसीडी कर्मचारी अतहर मुस्तफा से कथित तौर पर हाथापायी करने और उसकी ड्यूटी में बाधा डालने का आरोप था। घटना 2015 की है जब मुस्तफा अपनी टीम के साथ पश्चिमी दिल्ली स्थित एक अवैध निर्माण को गिराने पहुंचा था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपी में चुनाव आयोग की टीम ने 71 करोड़ रुपए कैश और 7.7 करोड़ की शराब पकड़ी
2 वाराणसी: पोस्टर में दिखाया अखिलेश यादव को अर्जुन और राहुल गांधी को सारथी कृष्ण
3 मुलायम की छोटी बहू अपर्णा की सीट पर कांग्रेस कर रही दावा, तीन कारणों से रुका है सपा से गठबंधन
ये पढ़ा क्या?
X