ताज़ा खबर
 

गिरिराज का कांग्रेस पर तंज, कहा- कांग्रेस के मुंह से मंदिर निर्माण की बातें शोभा नहीं देती

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कांग्रेस पर जोरदार हमला किया है। उन्होंने कहा कि जब भारत में चुनाव होता है तो कभी मणिशंकर अय्यर तो कभी कांग्रेस के अन्य नेता पाकिस्तान पहुंच जाते हैं।

गिरिराज सिंह, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

मध्य प्रदेश सहित 2 और राज्यों में वोटिंग हो चुकी है और 11 दिसंबर को जनता का फैसला सभी के सामने होगा। वहीं कल (7 दिसंबर) को राजस्थान- तेलंगाना में वोटिंग होनी है। चुनावी माहौल में वार पलटवार का सिलसिला देखने को मिल रहा है। ऐसे में केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कांग्रेस पर जोरदार हमला किया है। उन्होंने कहा कि जब भारत में चुनाव होता है तो कभी मणिशंकर अय्यर तो कभी कांग्रेस के अन्य नेता पाकिस्तान पहुंच जाते हैं। चुनाव हिंदुस्तान में होता है और कांग्रेस पाकिस्तान से वोट मांगने जाती है। इनका पाकिस्तान कनेक्शन मेरे समझ में नहीं आया है। यहां भारत में पांच राज्यों में चुनाव हैं तो वहां राहुल गांधी के नए एम्बेसडर नवजोत सिंह सिंद्धू पाकिस्तान जा रहे हैं।

कांग्रेस को शोभा नहीं देती मंदिर की बात
गुरुवार को केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह एमएसएमई टूल रूम के वर्कशॉप का निरिक्षण करने पहुंचे थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब मंदिर की बात कर रही है। जिसने कभी कोर्ट में हलफनामा दिया था कि भगवान श्रीराम हकीकत नहीं काल्पनिक थे। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल इस बारे में कहते हैं कि चुनाव के बाद इस मामले की सुनावई की जाए। ऐसे में कांग्रेस के मुंह से मंदिर निर्माण की बातें शोभा नहीं देती हैं। 1963 में हजरत साहब का बाल खो गया था तो पूरे देश में राजनीतिक भूकंप आ गया था। लेकिन वहीं जब 1990 में 7 लाख कश्मीरी पंडित बेघर हुए, कहीं कोई राजनीतिक बवाल नहीं हुआ। यहां कांग्रेस की पहचान है।

किसने की कितनी रैलियां

वहीं बात अगर 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों की करें तो आखिरी चरण में 7 दिसंबर को तेलंगाना और राजस्थान में वोटिंग होगी। देश की दोनों ही बड़ी पार्टियों ने राजस्थान के प्रचार प्रसार में अपना पूरा दमखम लगा दिया। बता दें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यहां 12 सभाएं की, जो कि पाचों राज्यों में सबसे ज्यादा है। इसके अलावा मोदी ने मध्य प्रदेश में दस, छत्तीसगढ़ में चार, तेलंगाना में पांच और मिजोरम में एक रैली की। गौरतलब है कि कुल मिलाकर इन पांचो राज्य में 679 सीटें हैं, हालांकि चुनाव इन में से 678 पर ही होगा।

 

 

कौन सी पार्टी के हैं कितने प्रत्याशी

गौरतलब है कि 199 सीटों के लिए राजस्थान में कुल 2274 प्रत्याशी मैदान में हैं। जिसमें से भाजपा ने 200 प्रत्याशी, कांग्रेस ने 195, बसपा ने 190, आम आदमी पार्टी ने 142, भावापा ने 63, रालोपा ने 58 और अरापा ने 61 कैंडिडेट मैदान में उतारे हैं। बता दें प्रदेश में 7 दिसंबर को वोटिंग होगी जबकि 11 दिसंबर को नतीजे सबके सामने होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App